जी-20 सम्मेलन होगा हम्पी और खजुराहो समेत 55 एतिहासिक स्थालों पर

 

G-20 Summit:  वर्ष 2023 में होने वाले जी-20 के शिखर सम्मेलन की मेजबानी इस भारत करेगा। सम्मेलन के लिए विदेश मंत्रालय से लेकर पर्यटन मंत्रालय अभी से तैयारियों में जुट चुके हैं। देश के मेट्रो शहरों से लेकर छोटे शहरों में जी-20 की बैठकों का आयोजन किया जाएगा। देशभर के 55 एतिहासिक स्थलों पर इन बैठकों की मेजबानी करने की योजना बनाई गई है। इनमें हम्पी और खजुराहो भी शामिल हैं।

पर्यटन मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों ने बताया कि इन बैठकों के लिए ऐतिहासिक स्थलों को चुनने का विचार इसलिए किया गया है, ताकि इन विरासत स्थलों को भी दुनिया के ध्यान में लाया जा सके। भारत जी-20 की अध्यक्षता के दौरान सालभर 200 से ज्यादा बैठकों की मेजबानी करेगा। वार्षिक शिखर सम्मेलन का समापन अगले वर्ष 9 और 10 सितंबर को होगा।

 

अधिकारी ने बताया, विभिन्न राज्यों में 55 स्थानों पर ये बैठकें आयोजित करने की योजना है। हम महानगरों, राज्यों की राजधानियों, महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों सहित अन्य स्थानों को कवर करेंगे। उन्होंने बताया कि इन 55 स्थानों में टिर-2 और टियर-3 शहरों को भी शामिल किया जाएगा जो सांस्कृतिक विरासत में समृद्ध हैं। इसलिए, हम एक बैठक कच्छ के रन, एक-एक सिलीगुड़ी, हम्पी और खजुराहों में आयोजित करेंगे।

कर्नाटक में हम्पी के खंडहर और मध्यप्रदेश के खजुराहो में मंदिरों का समूह यूनेस्को की विश्व धरोहरों स्थलों में से एक है।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post 22 साल बाद हुए अध्यक्ष पद के लिए चुनाव
Next post प्राधिकरण की आवासीय स्कीम का ई-ऑक्शन स्थगित