Home Buyers: कब होगी रजिस्ट्री, कब मिलेगा अपना घर के लगाए नारे

Home Buyers: नेफोवा के नेतृत्व में होम बायर्स(Noida home Buyers) ने रजिस्ट्री की मांग को लेकर रविवार को प्रदर्शन किया। ‘कब होगी रजिस्ट्री’, ‘कब मिलेगा अपना घर’, कुछ इस तरह के नारों के साथ घर खरीदारों का लगातार आठवें  हफ्ते वीकेंड मूवमेंट जारी रहा। खरीदार फरवरी में कार बाइक रैली करेंगे।
कई हफ्तों से जारी आंदोलन में लगातार घर खरीदारों की संख्या बढ़ रही है। कई सोसायटी के रेसिडेंट्स अपना दर्द लेकर पहुंच रहे हैं। कई ऐसे घर खरीदार विरोध प्रदर्शन में आ रहे हैं, जिन्हें 13 साल बाद भी घर नहीं मिला है। सिर्फ नेताओं से आश्वासन मिला है। इन लोगों का कहना है, “सरकारें तीन बदल गईं लेकिन इनके हालात नहीं बदले हैं।” वहीं वो लोग भी परेशान हैं, जिन्हें किसी तरह घर तो मिल गया लेकिन सात साल बाद भी रजिस्ट्री नहीं हुई है।
नेफोवा (nefova) के अध्यक्ष अभिषेक कुमार का कहना है, “उन लोगों के साथ अन्याय हो रहा है, जो ईमानदार हैं और उनकी फरियाद कोई सुनने को तैयार नहीं है। हमारा प्रदर्शन उग्र रूप लेगा अगर सरकार नहीं सुनेगी। हम पीछे नहीं हटेंगे। हमारा पेशेंस जवाब दे गया है। सरकार आगे आये और हमारी मांग पूरी करे।”

यह भी पढ़े:Noida Sector 18: प्राधिकरण के करोड़ों रुपए पर भारी पड़ रहा अतिक्रमण

शांतिपूर्वक प्रदर्शन में सभी  का एक ही दु:ख दिखा, घर मिला तो रजिस्ट्री नहीं हुई, कई आज तक अपने घर के पजेशन के इंतजार में हैं। घर मिला शिफ्ट हुए तो उसकी हालत खस्ता है। कभी भी हादसा हो सकता है। स्ट्रक्चरल आॅडिट होने की बात दूर मेन्टेन्स वाले ही उठकर देखने नहीं जाते कि क्या हालत है?
सोशल मीडिया पर भी जारी रखा आंदोलन                            
Home Buyers: आंदोलन में शामिल अनुपमा, अमित दयाल, स्निग्ध सिंह, अमित वर्मा, नीरज श्रीवास्तव, अनुराग खरे, महेश यादव, चंदन सिन्हा, महेश विष्ट, आशीष का कहना है कि हमारा आंदोलन तब तक जारी रहेगा, जब तक सरकार रजिस्ट्री शुरू नहीं कर देती है। जिन्हें आज तक घर नहीं मिला उन्हें घर नहीं दे देती है। घर खरीदार  योगेश, संतोष, निधि सक्सेना, अशोक श्रीवास्तव, हिमांशु सक्सेना, अभिषेक जैन, एसपी गुप्ता, वीके बत्रा का कहना है, “उनकी मांगों को जिस तरह नजरअंदाज किया जा रहा है उसे देखकर हम हैरान हैं।” बड़ी संख्या में मौजूद घर खरीदारों  ने मीटिंग की और सबने इस पर सहमति जताई कि आंदोलन को लगातार जमीन पर और सोशल मीडिया पर जारी रखना है।
बैंक और बिल्डरों के बीच फंसे खरीददार
अजनारा होम्स के रेजिडेंट (Residents of Ajnara Homes) चन्दन सिन्हा का कहना है कि बिल्डर से जब भी कुछ कहो, बस आश्वासन मिला है। रजिस्ट्री की बात तो किसी ने सुनी ही नहीं। काम क्या होगा? तीन साल से सिर्फ इंट्रेस्ट दे रहे हैं और जितना हम दे चुके हैं, वो कभी डिडक्ट होता दिखा ही नहीं। बैंक कहता है कि आपकी रजिस्ट्री हुई नहीं है। बैंक से हमें एनओसी नहीं मिल नहीं रही है और न बिल्डर एनओसी दे रहा है। हर महीने कहता है कि 15 दिन में दे दूंगा। इस बात को ही साल पर साल होते जा रहे हैं। हम त्रस्त हैं।

यहां से शेयर करें
Previous post Noida News: सपाइयों ने मनाई छोटे लोहिया जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि
Next post Supertech Supernova: प्रोपर्टी देखने आया व्यक्ति की 43वी मंजिल से गिरा