Gold Rates: गोल्ड स्मगलर्स पर सरकार ऐसे कसेगी शिकंजाग!

Gold Rates:विश्व में सोना का दूसरा सबसे बड़ा उपभोगता देश भारत है। इसके निर्यात पर सरकार बड़ा फैसला ले सकती है। सरकार और सर्राफा बाजार के सूत्रों के हवाले से खबरें में चल कि केंद्र सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी यानि आयात कर घटाने पर विचार कर रही है। इससे सोने की हो रही स्मगलिंग पर रोक लग सकती है।

मालूम हो कि वैश्विक स्तर पर बहुमूल्य धातुओं के रेट में गिरावट के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में आज को सोने का भाव 40 रुपये की गिरावट के साथ 56,840 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया है। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 56,880 रुपये प्रति 10 ग्राम तक पहुंच गया था। चांदी भी 85 रुपये गिरकर 68,980 रुपये प्रति किलोग्राम पर आई थी।

यह भी पढ़े: पीएम ने Subhash Chandra Bose जयंती पर बताए उनके योगदान

Gold Rates:बताया जा रहा है कि सोने की स्मगलिंग करने वालों पर लगाम लगाने लिए सरकार यह फैसला ले सकती है। सोने के आयात पर ज्यादा कर लगने से सोना स्मगलर करने वालों के लिए यह मुनाफे का सौदा बना जा रहा है। सोना स्मगल करने वाले बैंकों और एक नंबर सोना कारोबार करने वालों का एक बड़ा हिस्सा उड़ा ले जाने में सफल हो रहे हैं, क्योंकि उन्हें इसपर कोई कर नहीं चुकाना पड़ रहा। ऐसे में सूत्रों के अनुसार सरकार सोने के आयात पर लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी कम करने पर विचार कर रही है।

भारत में पीक डिमांड सीजन से पहले सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी कम होने से देश में इसकी मांग में वृद्धि हो सकती है। ऐसा होने से पिछले कुछ दिनों में वैश्विक स्तर पर कमजोर हो रहे सोने की कीमतों को सहारा मिल सकता है। अगर सरकार सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी घटाने का फैसला लेती है तो इससे घरेलू गोल्ड रिफाइनरियों की गतिविधि में भी इजाफा होगा। बता दें कि पिछले दो महीनों से घरेलू रिफाइनरियों में कामकाज ठप था क्योंकि वे ग्रे मार्केट ऑपरेटर्स यानी सोना स्मगलरों के साथ प्रतिस्पर्धा नहीं कर पा रहे थे।

 

यहां से शेयर करें
Previous post पीएम ने Subhash Chandra Bose जयंती पर बताए उनके योगदान
Next post MBBS Colleges में दाखिला दिलाने के नाम पर करते थे ठगी