सिसोदिया का आरोप, गन प्वांइट पर कंचल से वापस कराया नामकंन

 

आम आदमी पार्टी आप के सूरत पूर्व से उम्मीदवार कंचन जरीवाला के बुधवार को अपना नामांकन वापस ले लिए जाने की खबरें आई। इससे पहले आप ने भाजपा पर जरीवाला को अगवा करने और जबरन नामांकन वापसी का दबाव बनाने का आरोप लगाया । आप नेता एवं दिल्ली ने उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया चुनाव आयोग के दफ्तर के बाहर धरने पर बैठ गए। उन्होने आरोप लगाया था कि कि भाजपा ने सूरत(पूर्व) से हमारे उम्मीदवार कंचल जरीवाला को अगवा कर लिया है।
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सीसोदिया ने एक ट्वीट कर लिखा कि अभी केंद्रीय चुनाव आयोग जा रहा हूँ। गुजरात में भाजपा ने गुंडों के दम पर सूरत ईस्ट से ।।च् उम्मीदवार कंचन जरीवाला का अपहरण करवाया और फिर पुलिस के दम पर नामांकन वापस करवाया। ऐसे में चुनाव का मतलब ही क्या बचा फिर?

वह पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ चुनाव आयोग के बाहर धरना दे रहे हैं। उनका आरोप है कि भाजपा उनके उम्मीदवारों को डरा धमका रही है ताकि वह चुनावी मैदान छोड़ दें। सिसोदिया ने मीडिया के सामने कहा कि भाजपा आप उम्मीदवार का नामांकन खारिज करवाने की कोशिश कर रही है। सिसोदिया ने बताया 500 से ज्यादा पुलिसकर्मी जबरन कंचन जरीवाला को रिटर्निंग ऑफिसर के दफ्तर लेकर पहुंचे और उन पर नामांकन वापस लेने का दाबव बनाया गया। सिसोदिया ने और भी कई आरोप लगाए हैं। उन्होने कहा कि जो कुछ हो रहा है वह चुनाव आयोग पर सवाल खड़े करता है। चुनाव की निष्पक्षता पर उन्होंने सवाल उठाएं।

Previous post शिवपाल यादव के रूख को लेकर स्सपेंस
Next post स्सपेंस खत्म, चाचा शिवपाल का ऐलान बहु के लिए करेंगे प्रचार