Greater noida: महापंचायत में किसानों ने निकाली पुलिस व प्रशासन के खिलाफ भड़ास

एनटीपीसी दादरी पर भरतीय किसान परिषद के तत्वावधान में रसूलपुर तिराहे पर सर्वदलीय महापंचायत में किसानों ने पुलिस व प्रशासन के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली वहीं अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन 16 वे दिन भी जारी रहा। धरना की कमान अब पुरुषों की बजाय महिलाओं ने संभाल ली है। कई महिलाएं अब आंदोलन के लिए सशक्त होती नजर आ रही हैं।
वही किसान महापंचायत में मंगलवार को जय जवान जय किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील फौजी, किसान काँग्रेस के जिलाध्यक्ष गौतम अवाना, समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष फकीर चंद नागर शामिल हुए और धरने को समर्थन दिया।
संगठन के मीडिया प्रभारी अशोक चौहान ने बताया कि पंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया की 18 नवम्बर दिन शुक्रवार को कमिश्नर आलोक सिंह  का सेक्टर 108 नोएडा मे घेराव जाएगा।
इस दौरान सुधीर चौहान ने कहा की किसानो ने पुलिस प्रशासन के अधिकारियों,जिलाधिकारी महोदय और जनप्रतिनिधियों को भी अपनी मांगो/करारों से और पुलिस प्रशासन के द्वारा 1नवम्बर को की गई बर्बरता से अवगत करा दिया है। लेकिन उसके बाद भी किसानों को जेल से बिना शर्त रिहा नहीं किया गया है। और ना ही 24 गाँवों के किसानों की माँग पूरी हुई है। इसलिए किसानों के पास अब कमिश्नर साहब का घेराव करने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है। इसलिए किसानों ने यह निर्णय सर्व सम्मति से लिया गया है।  महापंचायत की अध्यक्षता बाबा हुकुम सिंह सलारपुर और संचालन सतेन्द्र शर्मा ने किया।
सर्वदलीय महापंचायत में ये रहे मौजूद
इस अवसर पर गोपाल शर्मा, सुरेंद्र चौहान, ऐडवोकेट सचिन अवाना, हरबीर सिंह, निरज राणा, हरिनंद शर्मा, कुलपति शिशौदिया, सुरेश त्यागी, सुधीर चौहान, सूरज प्रधान, उषा प्रधान, गजेन्द्र बैसौया, नीरज त्यागी, अशोक चौहान, सोनू यादव, मनोज यादव, सौरव आजाद , मनदीप राघव, बबली शर्मा, यशवीर सिंह, नरेंद्र यादव, सुंदर यादव रामू, विकास गौतम, विक्रम, उदय राज सिंह, शैलेख यादव, कुसुम चौहान, लता गोतम आदि महापंचायत में हजारों की संख्या में महिला और पुरुष धरना स्थल पर उपस्थित रहे।

यहां से शेयर करें
Previous post सड़क पर पैदल चल रहे लोगों का भी ध्यान रखे: गणेश प्रसाद
Next post Eco tourism:छात्रों को प्रवासी पक्षियों के संबंध में दी जानकारी