Noida News: भारत के विकास का भविष्य तय करेगा बजट: बृजेश सिंह

Noida News: नोएडा में जनपद के प्रभारी मंत्री और लोक निर्माण विभाग के राज्य मंत्री बृजेश सिंह का प्रथम बार आगमन हुआ। सबसे पहले भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका नोएडा गेट सेक्टर 14ए पर जोरदार स्वागत किया। उसके बाद मंत्री ने इंदिरा गांधी कला केन्द्र सेक्टर 6 पहुँचे जहां उन्होंने प्रेस वार्ता कर  बजट 2023 पर बात की।
मंत्री कुंवर बृजेश सिंह ने सभी के विचार सुने और साथ ही नोएडा के समस्याओं पर भी सभी संगठनों से चर्चा करी। एनईए, नोएडा एम्प्लॉईज एसोसिएशन, फोनरवा, कोनरवा, व्यापार संगठन, वेश समाज, डॉक्टर्स एसोसिएशन, जैन समझ, पूर्वांचल समाज आदि कई संस्थान से लोगो इस प्रबुद्ध सम्मेलन में आये। मंत्री  ने कहा बजट में समावेशी विकास, समाज के अंतिम पायदान तक पहुंच, अवसंरचना और निवेश, क्षमता को उजागर करना, हरित विकास, युवा शक्ति और वित्तीय क्षेत्र इन मुद्दों का समावेश है।  इंफ्रास्ट्रक्चर विकास बेहद जरूरी है। सड़क, रेल, बिजली, सेहत, शिक्षा और खेती से जुड़े महत्वपूर्ण इंफ्रास्ट्रक्चर पर किया गया निवेश मील का पत्थर साबित होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनी है।  यह बजट भारत के विकास को उज्जवल भविष्य की तरफ ले जाएगा। इस बजट में सभी का ध्यान रखा गया है।

यह भी पढ़े: Noida News: घरों से जेवरात नही चोरी करते थे भैंस

Noida News: इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष एवं गन्ना अध्यक्ष नवाब सिंह नागर, प्रकाश अस्पताल के चेयरमैन डॉ बीएस चौहान, जिÞला अध्यक्ष मनोज गुप्ता,  महिला आयोग अध्यक्षा श्रीमती बिमला बाथम,  क्षेत्रीय मंत्री बीजेंद्र नागर, महामंत्री गणेश जाटव, उमेश त्यागी, डिम्पल आनंद, मंत्री अमरीश त्यागी, एस पी चमोली,  प्रमोद बेहाल, संगठन मंत्री चमन आवाना लोकेश यादव, डॉ प्रसंजित मैत्रा, गिरजा सिंह, युद्धवीर चौहान, महेश अवना, गिरीश कोटनाला, धर्मेंद्र गुप्ता, मुकेश शर्मा,, मनोज चौहान, मंडल अध्यक्ष अशोक मिश्रा, कल्लू सिंह, सूरज पाल राणा, लोकेश कश्यप, गोपाल गौड़, बबलू यादव, मंडल प्रभारी हर्ष चतुवेर्दी, सचिन अम्बवता, ओम यादव, अध्यक्ष उमेश यादव, शारदा चतुवेर्दी, अहसान खान, राजीव त्यागी, रवि मिश्रा, प्रज्ञा पाठक, मुक्तानंद शर्मा आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

यहां से शेयर करें
Previous post Noida News: घरों से जेवरात नही चोरी करते थे भैंस
Next post Punjab: ओलम्पिक पदक विजेता खिलाडिय़ों को जल्द मिलेंगी नौकरियाँ