Delhi government के स्कूलों को दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बनाना चाहते हैं

Delhi government:  दिल्ली में शिक्षकों को विदेश में ट्रेनिंग पर भेजने को लेकर दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल वीके सक्सेना के साथ चल रही खींचतान के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह चाहते हैं कि शहर के सरकारी स्कूल दुनिया में सबसे अच्छे हों ताकि विदेश से छात्र यहां शिक्षा के लिए आएं।
विदेशों में ट्रेनिंग के लिए गए शिक्षकों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने उनसे कहा कि वह उन्हें विदेश भेजते रहेंगे और उन्हें दिल्ली और देश के लोगों का समर्थन प्राप्त है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि कुछ लोग इसे खर्चा मानते हैं, लेकिन यह निवेश है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुझे लगता है कि आप चार पुल कम और चार सड़कें कम बना सकते हैं, लेकिन हमें अपने शिक्षकों को सर्वश्रेष्ठ मौका और ट्रेनिंग देना चाहिए। वे छात्रों को तैयार करेंगे जो भविष्य में सड़कें और पुल बनाएंगे।

यह भी पढ़े:Supertech Supernova: प्रोपर्टी देखने आया व्यक्ति की 43वी मंजिल से गिरा

अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि कुछ लोग उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं, उन्होंने आरोप लगाया कि अच्छा काम करने वालों को नीचा दिखाने की प्रवृत्ति है। ऐसे लोग हैं जो हमारे अच्छे काम को देखते हैं और जलन महसूस करते हैं। वे हमें बदनाम करना चाहते हैं। लेकिन मुझे दलगत राजनीति में कोई दिलचस्पी नहीं है।
मनीष सिसोदिया को कर्ज दे दूंगा: केजरीवाल

यह भी पढ़े:Delhi News: आसमान में एक माह तक ड्रोन-टॉय एयरक्राफ्ट उड़ाने पर रोक

Delhi government: उन्होंने कहा कि अगर कोई बीजेपी वाला या कांग्रेस वाला देश में कहीं शिक्षा व्यवस्था सुधारना चाहता है तो मैं मनीष सिसोदिया को कुछ दिनों के लिए कर्ज दे दूंगा। हम पूरे देश की शिक्षा प्रणाली में सुधार करना चाहते हैं। केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार का उद्देश्य शिक्षकों को सीखने का बेहतर अनुभव देना है।

यहां से शेयर करें
Previous post Supertech Supernova: प्रोपर्टी देखने आया व्यक्ति की 43वी मंजिल से गिरा
Next post Delhi Mayor Election में फिर हंगामा के आसार