जयंत सिन्हा कि खिलाफ पूर्व नौकरशाहों ने खोला मोर्चा

नई दिल्ली। मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर जूलियो रिबेरो, पूर्व सूचना आयुक्त वजाहत हबीबुल्लाह और 41 अन्य पूर्व नौकरशाहों ने पीट-पीटकर हत्या मामले के 8 दोषियों को माला पहनाने को लेकर केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा को मंत्रिपरिषद से हटाने की मांग की है।
पूर्व नौकरशाहों ने बयान जारी कर कहा कि सिन्हा के इस कदम से ‘अल्पसंख्यकों की हत्या का लाइसेंस प्राप्त होने काÓ संदेश जाता है। उसमें कहा गया है कि इससे इस तरह के आपराधिक मामलों के आरोपियों की वित्तीय, कानूनी और राजनीतिक मदद को बढ़ावा मिलेगा। गौरतलब है कि सिन्हा ने मांस कारोबारी अलीमुद्दीन अंसारी की पीट-पीटकर हत्या मामले के दोषियों का जेल से बाहर आने पर पिछले हफ्ते स्वागत किया था। इस बात को लेकर बड़ा सियासी विवाद फैल गया है।
जयंत सिन्हा के खिलाफ अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मोर्चा खोल दिया है। सोमवार को उन्होंने ट्वीट कर जयंत सिन्हा को हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के अलुम्नाई ओहदे से हटाने की मांग वाली ऑनलाइन पिटिशन पर समर्थन मांगा है। राहुल ने लिखा, ‘अगर एक पढ़े-लिखे सांसद और केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा द्वारा लिंचिंग मामले में दोषी अपराधियों को माला पहनाने और सम्मानित करने का सीन आपको नफरत से भर देता है तो आप हार्वर्ड स्टूडेंट प्रतीक कंवल की मुहिम का समर्थन करें
गौरतलब है कि जयंत सिन्हा अमेरिका के प्रतिष्ठित हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र हैं।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post मैडम तुसाद में लगेगा अनुष्का का ‘बोलने वाला स्टैच्यू
Next post अमरिंदर के विधायक डोप टेस्ट में फेल