कोर्ट में फायरिंग: 17 पुलिसकर्मी सस्पेंड

बिजनौर। बिजनौर के एसपी सजीव त्यागी ने आज ड्यूटी के दौरान लापरवाही के आरोप में १७ पुलिस कर्मियों को ससपेंड कर दिया है। मंगलवार दोपहर सीजेएम कोर्ट में घुसकर तिहाड़ जेल से पेशी पर आए एक हत्यारोपित की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। दूसरा हत्यारोपित भाग निकला। घटनाओं की सूचना मिलते ही तुरंत एसपी सजीव त्यागी, एसपी सीटी लश्रमी निवास मिश्र ओर सीओ सीटी अरूण कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच एसपी ओर एसपी सीटी, सीओ ने फायरिंग करने वाले तीनों आरोपितों को कोर्ट में बंद कर दिया और बाहर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया। गोली लगने से हेड मोहर्रिर व दिल्ली पुलिस का एक सिपाही भी घायल हो गया।
इसी साल जून में नजीबाबाद में बसपा नेता अहसान व उनके भांजे की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड में नजीबाबाद के ही शहनवाज व जब्बार के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। इन पर पचास-पचास हजार का इनाम भी घोषित हुआ था। कुछ माह पूर्व दोनों ने दिल्ली में सरेंडर कर दिया था। दिल्ली पुलिस कल मंगलवार को दोनों को पेशी पर लेकर सीजेएम कोर्ट बिजनौर आई थी। कल दोपहर को दोनों सीजेएम कोर्ट में थे। बताया जाता है कि उस समय जज मौजूद थे।
बिजनौर की सीजेएम कोर्ट मे कल इसी बीच अहसान का बेटा साहिल अपने दो साथियों के साथ कोर्ट में पहुंचा और शहनवाज व जब्बार को निशाना बनाते हुए फायरिंग शुरू कर दी। शहनवाज को कई गोलियां लगीं और उसकी मौत हो गई। जब्बार वहां नहीं मिला। अनुमान लगाया जा रहा कि वह भाग निकला। हेड मोहर्रिर मनीश भी गोली लगने से घायल हो गया। अफरा-तफरी के बीच पुलिस ने साहिल सहित तीनों को कोर्ट रूम में बंद कर दिया और चारों तरफ से कोर्ट को घेर लिया। घायल हेड मोहर्रिर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस जब्बार की तलाश में जुटी है। पुलि?स ने शहनवाज के शव को पोस्?टमार्टम केे लिए मर्चरी भेजा। कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस तीनों हत्योरोपितों को थाने ले गई।
एसपी सजीव त्यागी ने बुधवार को डियूटी के दौरान लापरवाही बरतने के मामले मे १७ पुलिस कर्मियों को ससपेंड कर दिया है , जिसमे जयपाल, सचिन तोमर,कुलदीप कुमार, सोनिया, विपिन, सोनू कुमार, निशांत कुमार, राजीव कुमार, अनुज कुमार, शरद पवार, वसीम अकरम, रिकू, अंकुर यादव, सतेनदर शर्मा, दीपक कुमार, सहित १७पुलिस कर्मी यो को ससपेंड कर दिया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post अपनी ही सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे विधायक
Next post सोशल मीडिया पर भड़काऊ कंटेंट डालने वाले जाएंगे जेल : एसएसपी
Enable Notifications OK No thanks