‘2019 के चुनाव से पहले महागठबंधन मुमकिन नहीं

0
10

नई दिल्ली। देश में चारों ओर 2019 लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन बनने की अटकलें चल रही हैं। इस बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने एक बड़ा बयान दिया है। पवार की मानें तो वे चुनाव से पहले कोई गठबंधन बनता नहीं देख रहे हैं। पवार ने कहा, ऐसी समझ राज्यों में दलों के क्षेत्रीय मजबूती के कारण व्यावहारिक नहीं है। पवार ने कहा, मीडिया में कई अटकलें हैं, एक वैकल्पिक महागठबंधन के लिए बहुत कुछ लिखा गया लेकिन मैं ऐसा कुछ नहीं देख पा रहा हूं। मैं कोई संभावना नहीं देख रहा हूं। पवार ने कहा, मेरे मूल्यांकन के मुताबिक, यह एक राज्यवार स्थिति होगी. तमिलनाडु जैसे राज्य हो सकते हैं, जहां नंबर एक पार्टी डीएमके होगी और अन्य गैर-बीजेपी दलों को इसे स्वीकार करना होगा. यदि आप कर्नाटक, गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब जाते हैं, तो आप पाएंगे कि कांग्रेस नंबर एक पार्टी होगी। आंध्र प्रदेश में तेलुगू देशम पार्टी को स्वीकार करना होगा. तेलंगाना में के. चंद्रशेखर राव की पार्टी महत्वपूर्ण होगी। ओडिशा में नवीन पटनायक महत्वपूर्ण होंगे. बंगाल में ममता बनर्जी होगी. ये लोग राज्य के नेता के रूप में अपने राज्यों में गठबंधन के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत नहीं करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here