बीजापुर में नक्सली हमला, 4 BSF जवानों समेत 6 घायल

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

रायपुर। छत्तीसगढ़ में माओवादियों ने एक बार फिर सुरक्षाबलों पर हमले को अंजाम दिया है। राज्य के बीजापुर जिले से कुछ दूर एक IED ब्लास्ट हुआ है, जिसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के 4 जवान घायल हो गए हैं। उनके अलावा एक डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) और एक आम नागरिक भी इस हमले में जख्मी हुआ है। बताया जा रहा है कि इलाके में अभी मुठभेड़ जारी है। बता दें कि पहले चरण के मतदान के दौरान भी बीजापुर में सीआरपीएफ और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी।

मिली जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ के बीजापुर से करीब 7 किमी दूर बीजापुर घाटी में एक IED धमाका हो गया। धमाके में 4 BSF जवान, एक DRG और एक नागरिक घायल हो गए। सभी घायलों को इलाज के लिए फौरन बीजापुर के अस्पताल में पहुंचाया गया है। वहीं, इस हमले की पुष्टि नक्सल-विरोधी ऑपरेशन के DIG पी सुंदरराज ने भी की है।

मतदान के दिन भी हुई थी कई मुठभेड़
उन्होंने बताया है कि सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ स्थल पर फायरिंग जारी है। हालांकि, स्थिति कंट्रोल में है। बता दें कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा के लिए चुनाव हो रहे हैं। सोमवार को पहले चरण के मतदान के दौरान भी नक्सलियों से मुठभेड़ हुई थी। बीजापुर जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और नक्सलियों के बीच हुई अलग-अलग मुठभेड़ में सीआरपीएफ के दो अधिकारी समेत पांच सुरक्षाकर्मी घायल हुए थे। वहीं मतदान वाले दिन ही सुरक्षाबलों से मुठभेड़ के दौरान 7 नक्सलियों को मार गिराया गया था।

पहले चरण में बंपर वोटिंग
बता दें कि नक्सलियों की मतदान बहिष्कार की धमकी को ठेंगा दिखाते हुए बड़ी तादाद में लोगों ने वोट डाले थे। नक्सल प्रभावित इलाके में हुए चुनाव में 76 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ है। सोमवार को 18 सीटों पर हुई वोटिंग में 76.28 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इसमें सबसे अधिक डोंगरगांव में 85.15 फीसदी मतदाताओं और सबसे कम बीजापुर में 47.35 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। साल 2013 के विधानसभा चुनाव में इन 18 सीटों में 75.93 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment