परिनिर्वाण दिवस पर बाबा साहब को दी श्रद्घांजलि

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

नोएडा। आज बाबा साहब भीमराव अंबेडर के परिनिर्वाण दिवस के मौके पर दलित प्रेरणा स्थल पर सैंकड़ों लोग पहुंचे और उन्हें श्रद्घांजलि दी। बसपा के पूर्व प्रत्याशी रविकांत मिश्रा भी अपनी टीम के साथ यहां पहुंचे और उन्होंने बाबा साहब की मूर्ति पर फूल-मालाएं अर्पित की।

इस मौके पर दलित उत्थान संघर्ष महासभा के गणेश जाटव ने बताया कि परम पूज्य श्रद्धा बाबा साहब जी का यह 63वां परिनिर्वाण दिवस है। हम सब बाबा साहब के अनुयाई इस दिन को कभी नहीं भुला सकते। क्योंकि आज के दिन हम सभी के मसीहा आदरणीय बाबा साहब इस दुनिया से विदा हुए थे। पूरे देश के अंदर शोक की लहर दौड़ गई थी।

जाटव ने कहा कि लाखों-लाखों भक्त निशब्द थे और कहीं ना कहीं हमारे देश में नई आशा की किरण फूंकने वाले बाबा साहब के जाने से हर आंखें गमगीन थी। परंतु उनके द्वारा किए गए कार्यों की बदौलत आज हम अनुसूचित जाति वर्ग के लोग सामान्य विचारधारा में जी रहे हैं।

गणेश जाटव ने कहा कि अगर बाबा साहब नहीं होते तो आज भी रूढ़ीवादी ताकतें दलित समाज को वर्क कभी नहीं देती। ऐसे महापुरुष के जिन्होंने व्यक्तिगत स्वार्थ कभी नहीं रखा वह हमेशा दलितों के उत्थान के लिए और समाज के बदलाव के लिए हमेशा प्रेरणा के स्रोत रहेंगे।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment