महबूबा मुफ्ती की धमकी

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में बीजेपी के सहयोग से चल रही सरकार गिरने के बाद अब महबूबा मुफ्ती के सामने अपनी पीपल्स डेमोकै्रटिक पार्टी (पीडीपी) को बचाने का संकट है। पीडीपी में बगावत के गंभीर संकेत मिल रहे हैं और महबूबा ने बगावती नेताओं पर कार्रवाई भी शुरू कर दी है। शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम ने बीजेपी और केंद्र सरकार को भी चेताया कि अगर पीडीपी को तोडऩे की कोशिश हुई तो इसके खतरनाक परिणाम होंगे। ऐसा कहते हुए महबूबा ने 1990 के दशक के कश्मीर और सलाउद्दीन जैसे आतंकियों का भी जिक्र किया। महबूबा ने बीजेपी व केंद्र सरकार को 1987 के घटनाक्रम की याद दिलाते हुए चेतावनी दी है। महबूबा ने कहा कि अगर दिल्ली 1987 की तरह लोगों के वोटिंग राइट्स को खारिज करने, कश्मीर के लोगों को बांटने की कोशिश करेगी तो खतरनाक हालात पैदा होंगे। महबूबा ने कहा कि तब जिस तरह एक सलाउद्दीन और यासीन मलिक पैदा हुए थे, इसबार हालात और भी खराब होंगे। बीजेपी अध्यक्ष रविंद्र रैना ने कहा है कि महबूबा का बयान काफी आपत्तिजनक है। बीजेपी किसी तोडफ़ोड़ की प्रक्रिया में नहीं लगी है।

यहां से शेयर करें

2 thoughts on “महबूबा मुफ्ती की धमकी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post नए इंस्पेक्टरों के लिए थानों में जगह नहीं
Next post स्विस बैंकों में भारतीयों के 7000 करोड़ रुपए जमा