बिहार में महागठबंधन सीटों पर लगी मुहर

पटना। लंबी खींचतान के बाद आखिकार बिहार में गठबंधन तय हो गया। गठबंधन से बने महागठबंधन ने आज सीटों का बंटवारा भी कर लिया। राजद नेता तेजस्वी यादव ने आज उम्मींदवारों की सूची जारी की। पटना में एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राज्य के पूर्व डेप्युटी सीएम और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने लोकसभा सीटों को लेकर हिस्सेदारी का ऐलान किया। सीट शेयरिंग के फॉर्म्युले के तहत सुपौल और पटना साहिब लोकसभा सीट कांग्रेस के खाते में आई है। वहीं, पाटलिपुत्र, दरभंगा, सारण और बेगूसराय सीट आरजेडी के हिस्से में गई है। इसके साथ ही सीवान, महाराजगंज, बक्सर, जहानाबाद और गोपालगंज सीट भी लालू प्रसाद यादव की पार्टी आरजेडी के पास आई है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा, महागठबंधन अटूट है और हमने पहले भी कहा है कि यह महागठबंधन जनता के दिलों का गठबंधन है। आने वाली लड़ाई संविधान बचाने की है। लोकतंत्र को बचाने की है। न्याय और अन्याय, सच और झूठ की लड़ाई है। दो चरण के उम्मीदवारों की घोषणा पहले ही कर दी है।

तेजस्वी ने इस दौरान बाकी के पांच चरणों की सीटों पर पार्टीवार सीट शेयरिंग का ऐलान किया।कांग्रेस के पास 9 सीटें
किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, समस्तीपुर, मुंगेर, पटना साहिब, सासाराम, वाल्मीकि नगर, सुपौल
अन्य के पास 12 सीटें
आरएलएसपी- 5 सीटें (प. चंपारण, पू.चंपारण, उजियारपुर, काराकाट, जमुई)
हम- 3 सीटें (नालंदा, औरंगाबाद, गया)
वीआईपी- 3 सीटें (मधुबनी, मुजफ्फरपुर, खगडिय़ा)
सीपीआई (एमएल) के पास आरा सीट।आखिरकार सुलझा सीटों का विवाद
चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद बिहार में विपक्षी महागठबंधन ने आखिरकार लंबी जद्दोजहद के बीच सीटों के बंटवारे का ऐलान किया था, लेकिन कुछ ही दिनों में गठबंधन की दीवार दरकती हुई दिखने लगी थी। दरभंगा और सुपौल सीट को लेकर महागठबंधन के कांग्रेस और आरजेडी में मतभेद उभरकर सामने आए थे।

आरजेडी-कांग्रेस में विवाद की वजह से बिहार में मिथिलांचल समेत बाकी सीटों पर महागठबंधन के उम्मीदवारों का ऐलान भी टल गया था। दूसरी तरफ एनडीए पहले ही अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर चुकी है। संकट को गहराने से रोकने के लिए बिहार कांग्रेस चीफ मदन मोहन झा जहां गुरुवार को दिल्ली पहुंचे, वहीं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने गुरुवार को अपने सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post डबल डेकर बस ट्रक में घुसी आठ लोगों की मौत
Next post सांसद अशोक कुमार ने थामा कांग्रेस का हाथ
Enable Notifications OK No thanks