देश आईएफएस अफसरों की भारी कम

भारत के पास विदेश सेवा के महज 940 अधिकारी, चीन से आठ गुना कम

वॉशिंगटन। अमेरिकी वेबसाइट ब्लूमबर्ग एक बड़ा खुलासा किया है। वेबसाइट ब्लूमबर्ग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि विदेश सेवा अफसरों के मामले में भारत कई देशों से पीछे है। देश में महज 940 आईएफएस अफसर हैं। यह संख्या न्यूजीलैंड (885) और सिंगापुर (850) जैसे छोटे देशों के अफसरों की संख्या से कुछ ही ज्यादा है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया और जापान के विदेश विभाग में करीब 6 हजार अधिकारी हैं। चीन में 7500 तो अमेरिका के पास करीब 14 हजार डिप्लोमेट हैं, जो भारत से आठ गुना ज्यादा है।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत के कई लक्ष्य मसलन संयुक्त राष्ट्र में स्थायी सदस्यता और न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (एनएसजी) में सदस्यता अफसरों की कमी के चलते ही अटके हुए हैं।

एक पूर्व अफसर का कहना है कि भारतीय विदेश मंत्रालय में अफसरों की खासी कमी है जबकि नरेंद्र मोदी देश को दुनिया में मजबूत करना चाहते हैं। पूर्व मंत्री और संयुक्त राष्ट्र में भारत के प्रतिनिधि रहे शशि थरूर के मुताबिक भारत के पास काफी कम डिप्लोमेट हैं। देश की आबादी और हमारे लक्ष्यों के लिहाज से इसे सही नहीं कहा जा सकता। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारतीय विदेश मंत्रालय में पर्याप्त स्टाफ रखने की बात कही थी ताकि इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में भारत, चीन पर ज्यादा दबाव बना सके।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post आरडीएसओ के तरणताल में मौतों का सिलसिला जारी
Next post स्कूल का गेट गिरने से छात्रा की मौत, लोग आक्रोशित