दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानी बनीं दिल्ली

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को दुनिया के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों की सूची में सबसे ऊपर रखा गया है। दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में गुडग़ांव टॉप पर है। आईक्यू एयरविजुअल और ग्रीनपीस की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। वहीं दुनिया के टॉप-10 प्रदूषित शहरों में भारत के 7 शहर हैं। रिपोर्ट के अनुसार वैश्विक वायु प्रदूषण 2018 की रिपोर्ट में नयी दिल्ली को 62 प्रदूषित शहरों में पहले स्थान पर रखा गया है। रिपोर्ट में वायु गुणवत्ता को पीएम 2.5 के संदर्भ में मापा गया है। इस रिपोर्ट में चीन के शहरों की हवा सुधरी है और वहां सुधार देखने को मिला है। पर्यावरण क्षेत्र के गैर सरकारी संगठन ग्रीनपीस इंडिया की तरफ से हाल में किए गए अध्ययन में राजधानी दिल्ली से सटा गुरुग्राम दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर है। पिछले साल को दो महीनों में गुरुग्राम का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स में पीएम 2.5 का स्तर 200 से ऊपर ही पाया गया था।

यह स्तर स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद खराब है। रिपोर्ट में चेताया गया है कि इसका स्वास्थ्य पर काफी बुरा प्रभाव पड़ेगा। रिपोर्ट के अनुसार वायु प्रदूषण के कारण अगले साल तक करीब 70 लाख लोग समय से पहले मौत के मुंह में चले जाएंगे। इसके अलावा इसका अर्थव्यस्था पर भी बड़ा असर पड़ेगा। दुनिया के 20 सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश में है। पिछले साल सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों में 10वें नंबर पर लाहौर, 11 नंबर पर दिल्ली और 17वें नंबर पर ढाका है।

प्रदूषण का दुष्प्रभाव: 15 लाख करोड़ का नुकसान
ग्रीनपीस के दक्षिण-पूर्व एशिया के कार्यकारी निदेशक येब सानो के मुताबिक, प्रदूषण का खासा दुष्प्रभाव पड़ता है। यह हमारे स्वास्थ्य और जेब पर असर डालता है। इससे जिंदगियों तो खत्म हुई हीं, साथ ही अनुमानित 225 बिलियन डॉलर (करीब 15 लाख करोड़ रुपए) का भी नुकसान हुआ और करोड़ों डॉलर दवाओं पर खर्च हुए। भारत दुनिया की सबसे तेज बढऩे वाली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। 30 सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों में भारत के 22 शहर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post कांग्रेस-आप में गठबंधन की सुगबुगाहट
Next post रि. फौजी को घर में घुसकर मारी गोलीग्रेटर
Enable Notifications OK No thanks