1 min read

दिल्ली सरकार का दावा- पब्लिक सर्विसेज की डोर स्टेप डिलीवरी के पहले दिन 21 हजार कॉल मिले

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने दावा किया है कि डोर स्टेप डिलीवरी ऑफ सर्विसेस के पहले दिन सोमवार को 21 हजार कॉल आए। इस योजना के तहत राज्य सरकार की 40 पब्लिक सर्विसेज लोगों को घर पर ही मिलेंगी। इनमें विवाह प्रमाण पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, नल कनेक्शन लेने जैसे कामों के लिए लोगों को 50 रुपए की राशि देनी होगी।

राज्य सरकार के मुताबिक, डोर स्टेप डिलीवरी ऑफ सर्विसेस के लिए एक कॉल सेंटर बनाया गया है। इसमें 369 कर्मचारियों को नियुक्त किया गया है। लॉन्चिंग के पहले दिन लोगों ने भारी तादाद में फोन किए। इस वजह कई कॉल कनेक्ट नहीं हो पाए।

दिल्ली सरकार ने बताया कि शाम 6 बजे तक 2,728 कॉल कनेक्ट हुए। इनमें से 1286 कॉल के जवाब दिए गए। बाकी बचे कॉल को वेटिंग पर रखा गया है। इन्हें कॉल बैक किया जाएगा। सरकार ने बताया कि टीम के सदस्यों को अलग-अलग डिपार्टमेंट तय किए हैं। कॉल सेंटर का हर सदस्य दिल्ली के 7 जिलों से दस्तावेज एकत्रित करेगा और फिर लोगों की जरूरत के मुताबिक उन्हें तय वक्त में उनके घर तक पहुंचाया। योजना के तहत 1076 पर कॉल करके मोबाइल सहायक को बुलाना होगा।

यहां से शेयर करें

46 thoughts on “दिल्ली सरकार का दावा- पब्लिक सर्विसेज की डोर स्टेप डिलीवरी के पहले दिन 21 हजार कॉल मिले

Comments are closed.