किसान क्रांति यात्रा मेरठ की ओर बढी़

मेरठ। यूनियन की किसान क्रांति यात्रा बीते रविवार को हरिद्वार से दिल्ली के लिए कूच कर गई है। 28 सितंबर को दौराला और 29सितंबर को परतापुर में पड़ाव होगा। यात्रा के ठहराव का प्लान अफसरों के पास आया है, लेकिन इसमें स्थान का जिक्र नहीं है। अनुमान है कि दौराला चीनी मिल और मोहिउद्दीनपुर मिल को ठहराव स्थल बनाया जा सकता है।
एसएसपी अखिलेश कुमार का कहना है कि जिस हाईवे से रोजाना 50 हजार वाहन गुजरते हैं, उसे यात्रा के लिए बंद नहीं किया जा सकता। हाईवे पर जबरन कब्जा करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने बताया कि मंगलवार को हाईवे टोल प्लाजा पर पुलिस और प्रशासनिक अफसरों के साथ बैठक करेंगे। यात्रा के आयोजकों से बात करके स्थान चिन्हित किए जाएंगे।

हरिद्वार में रात्रि पड़ाव के बाद यात्रा 25 सितंबर को बरला इंटर कॉलेज, मुजफ्फरनगर में, 26 को कूकड़ा मंडी और 27 सितंबर को भैंसी गांव में रुकेगी। इसके बाद मेरठ रवाना होगी। 30 सितंबर को गाजियाबाद के मुरादनगर और एक अक्टूबर को हिंडन घाट में पड़ाव रहेगा। दो अक्टूबर को नई दिल्ली के किसान घाट पर यात्रा का समापन होगा।

नरेश टिकैत के मुताबिक, हरिद्वार में 700 से अधिक ट्रैक्टर-ट्राली और अन्य सैकड़ों वाहनों के साथ यात्रा शुरू हुई। इसके अलावा करीब 50 हजार किसान पैदल भी साथ चल रहे हैं। दावा है कि मेरठ में एक लाख से अधिक किसान प्रवेश करेंगे। वहीं, खुफिया विभाग के अनुसार, केवल पांच हजार किसान मुजफ्फरनगर तक पहुंचे हैं। यहां इनकी संख्या बढ़कर 15 हजार हो सकती है और मेरठ में 20 हजार। इसलिए संख्या को लेकर अभी स्थिति साफ नहीं है।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post गणेश प्रतिमा विसर्जन गए 11 लड़के लापता
Next post किसान की कृषि वैज्ञानिक बेटी को मिला सम्मान