किसान आंदोलन चढ़ा परवान सब्जियों के दामों में इजाफा

नई दिल्ली।  केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ राष्ट्रीय किसान महासंघ द्वारा बुलाई गई राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आज दूसरा दिन है। देश के सात राज्यों में जारी इस हड़ताल में 130 संगठन शामिल हैं। आज भी कई जगहों पर हो सकते है प्रदर्शन। हड़ताल के पहले दिन किसानों के गुस्से की तस्वीर सामने आई। कहीं किसानों ने सड़कों पर दूध बहाया तो किसी राज्य में सब्जियां रास्तों में फेंक दी गईं।
किसानों का यह 10 दिवसीय आंदोलन सब्जियों के न्यूनतम मूल्य, समर्थन मूल्य और न्यूनतम आय समेत कई मुद्दों को लेकर किया जा रहा है। किसानों की ये भी मांग है कि दूध के दाम पेट्रोल के बराबर हों। मंडियों में सप्लाई ठप होने से सब्जियों के रेट बढ़ गए हैं। दिल्ली की गाजीपुर मंडी में सब्जियों के थोक रेट में भी भारी बढ़ोतरी हुई है। मुंबई में भी सब्जी की कीमतें बढ़ गई हैं। यहां टमाटर की कीमत 40 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गई है। जबकि प्याज 20, आलू 30 और भिंडी 80 रुपये प्रति किलो मिल रही है। किसानों का आरोप है कि स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के बारे ये सरकार बात ही नहीं कर रही है।
दिल्ली-मुंबई में टमाटर की कीमत दोगुने से ज्यादा

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post बारिश का कहर > देश भर में 12 लोगों की मौत
Next post अब सिंगापुर मस्जिद में पीएम मोदी