कमजोर इमारतों के खिलाफ गाजियाबाद-गौतमबुद्ध नगर में अभियान

लगातार दो दिन हुई बारिश में नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में बनी इमारतें कितनी मजबूत है, इसकी पोल खोलकर रख दी। सरकार की ओर से प्रशासन को सभी इमारतों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। जय हिन्द जनाब ने पड़ताल की कि किन-किन क्षेत्रों में इमारतें खस्ता हालत में है…।


नोएडा। गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद में नियमों की अनदेखी कर बनाई जा रही बड़ी-बड़ी इमारतों के खिलाफ जिला प्रशासन एवं प्राधिकरणों द्वारा कार्रवाई की जा रही है। नोएडा ग्रेटर, नोएडा और गाजियाबाद के कई इलाकों में कच्ची कॉलोनियों में ऊंची-ऊंची इमारतें बनाकर फ्लाइट बेची जा रहे हैं। अब इनके खिलाफ जिला प्रशासन अभियान चलाकर कार्रवाई कर रहा है। बन रहे इन सभी इमारतों की हल्की बारिश ने ही पोल खोलकर रख दी है। गाजियाबाद के एडीएम सिटी हिमांशु गौतम ने बताया कि अलग-अलग क्षेत्रों में बन रही अवैध इमारतों के लिए एडवाइजरी जारी की गई है, जिसमें कहा गया है कि जो इमारत जर्जर हालत में है, उन्हें ध्वस्त किया जाए। इसके अलावा जो इमारतें नियमों के विरुद्ध जाकर बन रही है सील किया जाए। ठीक ऐसे ही नोएडा और ग्रेटर नोएडा में भी कार्रवाई की जा रही है। खासतौर से ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण अवैध इमारतों को लेकर सजग हो गया है। जहां भी अवैध इमारत बनने की प्राधिकरण को सूचना मिल रही है, वहां तत्काल कार्रवाई की जा रही है। अब तक दर्जनों इमारतों के खिलाफ प्राधिकरण कार्रवाई कर चुका है।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post विद्युत विभाग की लारवाही से गई जान खंभे पर चढ़ा था कर्मी चालू कर दी बिजली, मौत
Next post इधर से न जाएं, सड़कों पर गड्ढे हैं…