इधर से न जाएं, सड़कों पर गड्ढे हैं…

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि 15 जून 2017 तक गड्ढा मुक्त होंगी प्रदेश की सभी सड़कें, हाईटेक जिले का हाल है बुरा, साल बीतने के बाद भी खस्ता हालत मेें सड़कें

नोएडा। प्रदेश की सड़कों को गड्ढा मुक्त बनाने का मुख्यमंत्री का दावा खोखला साबित हो रहा है या यूं कहें कि अधिकारियों की निष्क्रियता है। उत्तर प्रदेश का सबसे हाईटेक जिला गौतमबुद्ध नगर को माना जाता है। यहां यातायात पुलिस को एडवाइजरी जारी करनी पड़ी है कि सूरजपुर से पुलिस लाइन की ओर न जाएं, क्योंकि सड़क पर गहरे गहरे गड्ढे  हो चुके हैं। इन गड्ढों के कारण हादसा हो सकता है।
यातायात पुलिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर फोटो डालकर लिखा है कि इन रास्तों का प्रयोग न करें। इससे पता चलता है कि प्रदेश कहां तक गड्ढा मुक्त हुआ है। गड्ढा मुक्त करने की तिथि मुख्यमंत्री की ओर से 15 जून 2017 रखी गई थी लेकिन 15 जून 2018 निकले हुए डेढ़ महीना हो चुका है अब तक सड़कें गड्ढा मुक्त होना तो दूर बल्कि गड्ढों के अंदर सड़के जा रही हैं। जरूरत है कि सड़कों को दुरुस्त करने वाले अधिकारी मुख्यमंत्री की बात को गंभीरता से लें और उनके दावों को पूरा करने के लिए सकारात्मक रवैया दिखाएं।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post कमजोर इमारतों के खिलाफ गाजियाबाद-गौतमबुद्ध नगर में अभियान
Next post इमरान खान 11 अगस्त को लेंगे पीएम पद की शपथ, चार पार्टियां दे सकती हैं समर्थन