आरडब्ल्यूए पदाधिकारियों ने बैठक में रखी समस्याएं

मंत्री-अधिकारियों ने दिया आश्वासन

नोएडा। शहर में पानी, सीवर, बिजली, सफाई आदि की आ रही समस्याओं को लेकर केंद्रीय मंंत्री डा. महेश शर्मा शहर विधायक पकंज सिंह, प्राधिकरण के चेयरमैन आलोक टंडन एसीईओ आरके मिश्रा ने फोनरवा के अध्यक्ष एनपी सिंह वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुरेश तिवारी के साथ शहर की तमाम आरडब्ल्यूए के पदाधिकारियों के साथ बैठक की गई। सेक्टर-6 स्थित इंदिरा गांधी कला केंद्र में हुए इस सम्मेलन में मंत्रियों और अधिकारियों ने जल्द से जल्द समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने की।

केंद्रीय मंत्री डा. महेश शर्मा ने कहा कि अधिकारियों को समस्याओं को गंभीरता से समझना चाहिए, ताकि उसका निस्तारण हो सके। इस बैठक में सेक्टर-11 से लेकर सेक्टर-122 तक के आरडब्ल्यूए प्रतिनिधि मौजूद रहे, जिन्होंने बारी-बारी से अपनी समस्याएं जनप्रतिनिधियों के समक्ष रखीं।

मुख्य समस्या बिजली, पानी, अतिक्रमण, सेक्टर की साफ-सफाई और सीवर की रही। सभी सेक्टर के लोगों ने कहा कि अतिक्रमण नोएडा के अधिकारियों के सह पर की जाती है। जेई की जिम्मेदारी तय की जाए। इस दौरान फोनरवा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुरेश तिवारी ने गंदगी, अतिक्रमण, कूड़ा न उठना आदि समस्याएं रखीं। शहर को साफ-सुथरा बनाने के लिए हर प्रयास किए जाएंगे।

विधायक पकंज सिंह ने प्राधिकरण के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि सड़क पर कोई अतिक्रमण नहीं रहना चाहिए। केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि अतिक्रमण, सीवर, यातायात, सुरक्षा पर एक पांच सदस्यीय कमेटी बनाकर सबकी सहभागिता से कार्य किए जाए और इसकी जानकारी दी जाए। वहीं, चेयरमैन आलोक टंडन ने कहा कि सफाई व्यवस्था के लिए जब आरडब्ल्यूए एनओसी जारी करेगी तभी ठेकेदार को भुगतान होगा। आवारा कुत्तों के लिए और एजेंसियां लगाई जाएंगी।

नोएडा का अब हर कार्य ऑनलाइन होगा। सड़कों पर एलईडी लाइटें लगाएगी जाएंगी। शहर को अक्टूबर तक इंडोर स्टेडियम मिल जाएगा। तीन बड़े पार्क बनाए जा रहे हैं। सेक्टर 54 के कूड़ाघरों में मैकनाइज स्वीङ्क्षपग तरीके से कार्य होगा। सेक्टर-62 बी ब्लॉक अध्यक्ष सुखदेव शर्मा ने बताया कि अधिकांश सेक्टरों में पानी की गुणवत्ता खराब है। कहीं पानी का प्रेशर कम है तो कहीं पानी आता ही नहीं है। सीवर चोक होना, नाले के खुले होने से मीथेन जैसी गैस से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण खराब होने की समस्या बताई। कई बार बैठकों के बाद भी सेक्टर में सुरक्षा रामभरोसे है। यहां घरों में चोरी होना, वाहन चोरी, सड़कों पर अराजकतत्वों के साथ अवैध पार्किग मुख्य समस्या है।

यहां से शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post डोनाल्ड ट्रंप की चीन को धमकी, कहा- 19 लाख करोड़ रुपए के इंपोर्ट पर शुल्क देने को रहे तैयार
Next post जेवर एयरपोर्ट के लिए किसानों की सहमति!