शाहीन बाग में धरनारत लोगों ने मनाई लोहड़ी

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें


नई दिल्ली। पिछले 28 दिनों से शाहीन बाग में महिलाओं ने कड़ाके की ठंड में मोर्चा संभाला हुआ है और वह धरना खत्म करने को तैयार नहीं है।
उनकी मांग है कि सीएए और एनआरसी पर सरकार कदम पीछे हटाए तभी वह अपना धरना खत्म करेंगे। इस सबके बीच बीती रात शाहीन बाग में लोहड़ी का त्यौहार मनाया गया। इस दौरान एक दूसरे को रेवड़ी, गजक, मूंगफली खिलाकर बधाई दी गई और एक सुर में कहा आवाज दो हम एक हैं। महिलाओं का कहना है कि वह अपने परिवार को छोड़कर ठंड में इसलिए बैठी हैं ताकि उन्हें न्याय मिल सके। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को समझना पड़ेगा तब जाकर वह रास्ता खोलेंगे। धरना प्रदर्शन में हर समुदाय के लोग शामिल हो रहे हैं जिस तरह से यहां लोहड़ी मनाई गई उसने साबित कर दिया कि यह लड़ाई केवल मुसलमानों तक सीमित नहीं है बल्कि हर एक समुदाय इसमें शामिल है।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें