कबीर की नगरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश में संत कबीर की नगरी में हैं. मगहर पहुंच कर  PM मोदी ने सबसे पहले कबीर दरगाह पर जाकर समाधि पर चादर चढ़ाई फिर नमन किया आपको बताते चले कि आज कबीर का 620वां प्राकट्य दिवस है. PM मोदी ने यहां कबीर अकादमी के मॉडल का भी दौरा किया. प्रधानमंत्री ने यहां पर ‘संत कबीर अकादमी‘ की आधारशिला रखी. प्रधानमंत्री के साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वहा मौजूद रहे. पीएम मोदी यहां जनसभा को संबोधित कर रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा  की  14-15 वर्ष पहले जब पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम जी यहां आए थे, तब उन्होंने इस जगह के लिए एक सपना देखा था. उनके सपने को साकार करने के लिए मगहर को अंतरराष्ट्रीय मानचित्र में सद्भाव-समरसता के मुख्य केंद्र के तौर पर विकसित करने का काम अब किया जा रहा है: सरकार सबका साथ सबका विकास की भावना से काम कर रही है, पहले विकास को तरस गया था पूर्वी उत्तर प्रदेश: मोदी देश में मुस्लिम बहनें तीन तलाक से मुक्ति की मांग कर रही हैं, लेकिन तीन तलाक के रास्ते में रोड़े अटकाए जा रहे हैं: मोदी समाजवाद और बहुजन की बात करने वालों का सत्ता के प्रति लालच आप देख रहे हैं, 2 दिन पहले देश में आपातकाल को 43 साल हुए हैं. सत्ता का लालच ऐसा है कि आपातकाल लगाने वाले और उस समय आपातकाल का विरोध करने वाले एक साथ आ गए हैं. ये समाज नहीं, सिर्फ अपने और अपने परिवार का हित देखते हैं: मोदी  कुछ दल बस कलह और राजनीति चाहते हैं, ये दल समाजवाद और बहुजन वाद के नाम पर ढोंग कर रहे हैं, ये वही लोग हैं जिन्होंने अपने लिए करोड़ों के बंगले बनवाए हैं, ऐसे लोगों से यूपी के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है: मोदी  कुछ लोगों का मन अपने आलीशान बंगले से लगा हुआ है: मोदी आज महापुरुषों के नाम पर राजनीति हो रही है. ऐसे लोग जमीन से कट चुके हैं: मोदी  कुछ दलों को शांति और विकास नहीं, कलह और अशांति चाहिए. उनको लगता है जितना असंतोष और अशांति का वातावरण बनाएंगे उतना राजनीतिक लाभ होगा. सच्चाई ये है ऐसे लोग जमीन से कट चुके हैं. इन्हें अंदाजा नहीं कि संत कबीर, महात्मा गांधी, बाबा साहेब को मानने वाले हमारे देश का स्वभाव क्या है: मोदी ये हमारे देश की महान धरती का तप है, उसकी पुण्यता है कि समय के साथ, समाज में आने वाली आंतरिक बुराइयों को समाप्त करने के लिए समय-समय पर ऋषियों, मुनियों, संतों का मार्गदर्शन मिला. सैकड़ों वर्षों की गुलामी के कालखंड में अगर देश की आत्मा बची रही, तो वो ऐसे संतों की वजह से ही हुआ: मोदी कबीर विचार बनकर आए और व्यवहार बनकर अमर हो गए: मोदी  संत कबीर भीतर से कोमल और बाहर से कठोर थे. वे जन्म से नहीं अपने कर्म से वंदनीय हो गए, समाज जागरण के लिए कबीर काशी से मगहर आए : मोदी मगहर की पावन धरती पर आकर मुझे संतोष मिला, संपूर्ण मानवता के लिए कबीर दास उम्दा संपत्ति छोड़ गए: मोदी समाज को सदियों से दिशा दे रहे मार्गदर्शक, समभाव और समरसता के प्रतिबिम्ब महात्मा कबीर को उनकी ही निर्वाण भूमि से मैं उन्हें कोटि-कोटि नमन करता हूं:  पीएम मोदी ने संबोधन भोजपुरी  भाषण से  शुरुआत की.  पूर्वी उत्तर प्रदेश में बीमारियों पर काबू करने का प्रयास किया जा रहा है: योगी  देश के गांव-गरीब और किसान के लिए सरकार ने काम किया है: योगी स्वच्छता को बढ़ावा देते हुए एक साल में प्रदेश में 72 लाख से भी ज्यादा शौचालय का निर्माण किया गया: योगी जनसभा को योगी आदित्यनाथ संबोधित कर रहे हैं.  पीएम मोदी जनसभा स्थल पहुंच गए हैं. कुछ ही देर में वे लोगों को संबोधित करेंगे. इसे भाजपा 2019 के लोकसभा चुनाव प्रचार की शुरुआत के रूप में देख रही है. गोरखपुर में भारी बारिश के कारण पीएम के कार्यक्रम में अंतिम समय में बदलाव किया गया था.

इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे से एक दिन पहले मगहर जाकर तैयारियों का जायजा लिया. योगी कबीर की मजार भी गए थे. मजार पहुंचने पर वहां के संरक्षक ने उन्हें कबीर टोपी पहनाने की कोशिश की. इस पर योगी ने टोपी पहनने से इनकार कर दिया.


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment