बैरंग लौटी अतिक्रमण हटाने गई प्राधिकरण की टीम

0
5

नोएडा। बरौला में बीते दिन नोएडा प्राधिकरण की टीम जमीन से अतिक्रमण हटाकर कब्जा लेने पहुंची, लेकिन ग्रामीणों और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के विरोध के चलते टीम को बेरंग लौटना पड़ा। सपा की और से पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी और नोएडा ग्रामीण अध्यक्ष रेसपाल अवाना के नेतृत्व कमें विरोध किया गया।
अब प्राधिकरण के वर्क सर्किल की ओर से विवाद को सुलझाने का प्रयास किया जाएगा। इस मामले में प्राधिकरण ने दो किसानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।
प्राधिकरण के दस्ते ने 4 दिन पहले बरौला की एक जमीन से अतिक्रमण हटाया था।
प्राधिकरण का कहना है कि उक्त जमीन का मुआवजा किसान पहले ही ले चुका है, लेकिन वहां अतिक्रमण किया हुआ था। लिहाजा इसे हटाने के बाद बीते दिन प्राधिकरण की टीम वहां दीवार का निर्माण करने के लिए गई थी, लेकिन ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया। ग्रामीणों का यह कहना था कि प्राधिकरण गलत खसरा नंबर की जमीन पर दीवार बना रहा है।
सपा के पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी का कहना है कि नोएडा प्राधिकरण की टीम जिस खसरा नंबर वाली जमीन पर कब्जा लेने गई थी, उस पर दीवार का निर्माण न कर दूसरे खसरा नंबर वाली जमीन पर दीवार बनाने का प्रयास किया गया, जिसका सभी ने विरोध किया। उनका साफ कहना था कि इसकी एक बार जांच करा ली जाए और जांच कराने के बाद जो सही हो वही होना चाहिए। करीब 2 घंटे तक वहां काम रुका रहा, इसके बाद प्राधिकरण की टीम लौट गई।
इस मौके पर बाबा जयवीर, सुभाष चौधरी, परविंदर अवाना, पप्पी तंवर, विनोद कुमार उर्फ बिल्लू, बेली भाटी, महेश भाटी और सुंदर भाटी आदि मौजूद रहे।