ठंड में भी रफ्तार पकड़ रहा किसान आंदोलन

0
10

नोएडा। कृषि कानून को लेकर दो बिंदुओं पर सरकार की सहमति किसानों के साथ बनी है, लेकिन मुख्य बिन्दु पर अब भी सहमति बाकी है। वहीं बढ़ती ठंड के बीच चिल्ला बार्डर पर लगातार किसान व समर्थकों की भी बढ़ती जा रही है। भारतीय किसान यूनियन (भानु) के नेतृत्व में चिल्ला बार्डर पर किसानों के धरने को समर्थन देने महाराणा प्रताप संघर्ष समिति का आठ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल पहुंचा।
उन्होंने कहा कि रविवार को मेरठ, मुज्जफरनगर, बागपत, पाली समेत अंबाला से समिति सदस्य धरना स्थल पर एकत्र होंगे। इस दौरान समिति राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र सिंह पुंडीर ने कहा कि भानु गुट के नेतृत्व में किसानों के लिए जिस प्रकार से दिल्ली बार्डर धरना दिया जा रहा है, सरकार के खिलाफ काले कानून को लेकर डटे हुए हैं।
वहीं किसान नेता एवं किासन यूनियन भानु के प्रदेश महामंत्री बी.सी प्रधान ने कहा कि यह कोई साधारण बात नहीं है, बल्कि इस भीषण ठंड में किसानों की मांग को लेकर सड़क पर बैठना बड़ी बात है। इनके आंदोलन को किसी भी प्रकार से कमजोर नहीं होने दिया जागा। समिति के सदस्य भी इस आंदोलन को हिस्सा बनेंगे। इस मौके पर भानु राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने कहा कि किसानों को कमजोर समझने वाली सरकार गफलत में है। एक माह पूरा हो चुका है, आंदोलन अब गति पकड़ रहा है।