• Google

हटेंगे साइकिल ट्रैक, चौड़ी होंगी सड़कें

By: janabhind
12-04-2017 13:54:23 PM

अखिलेश के 7 बड़े फैसलों को अब तक पलट चुके हैं सीएम योगी
 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद से ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक्शन मोड में आ गए हैंह। योगी सरकार यूपी के विकास के लिए नए फैसले तो ले ही रही है साथ ही पुरानी योजनाओं और नीतियों की समीक्षा भी की जा रही है। इस सिलसिले में योगी आदित्यनाथ कुछ ऐसे निर्णय लिए हैं जिन्होंने सीधे तौर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की नीतियों और इरादों पर चोट पहुंचाई है। अखिलेश सरकार के कुछ फैसलों और योजनाओं पर भी योगी सरकार ने ब्रेक लगा दिया है। अब ताजा फैसलों में अखिलेश यादव के द्वारा बनाई गई साइकिल ट्रैक तोडऩे का निर्णय लिया है। 
 
बदले गए फैसले
 
 
1. अखिलेश की तस्वीर वाले राशन कार्ड र
योगी सरकार ने तीन करोड़ 40 लाख राशन कार्ड रद्द करने का फैसला लिया। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि इन राशन कार्ड पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तस्वीरें थीं। 
2. समाजवादी आवास स्कीम बंद
योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव सरकार की प्रमुख समाजवादी आवास स्कीम को भी बंद कर दिया है। इसकी जगह राज्य में अब प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लोगों को अफोर्डेबल हाउस दिलाया जाएगा. दरअसल केंद्र में मोदी सरकार बनने के बाद देशभर में अफोर्डेबल हाउस (सस्ता घर) दिलाने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना को लॉन्च किया गया था। 
3. समाजवादी पेंशन योजना पर ब्रेक
योगी सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सबसे बड़ी योजना 'समाजवादी पेंशन योजना' पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है और इसके पात्रता की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं. सोमवार देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला लिया।
 
4. पोषण मिशन कमेटी भंग
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य पोषण मिशन कमेटी को भी भंग कर दिया। अखिलेश यादव सरकार ने 2014 में इस कमेटी का गठन किया था। इस कमेटी की सदस्य उनकी पत्नी डिंपल यादव थीं। 
5. वीआईपी शहरों की लिस्ट बदली
योगी सरकार ने यूपी के वीआईपी शहरों की लिस्ट भी बदल दी है। ताजा फैसले के मुताबिक इटावा, कन्नौज और आजमगढ़ की जगह गोरखपुर, मथुरा, अयोध्या और वाराणसी वीआईपी शहर होंगे। बता दें कि इटावा पूर्व सीएम अखिलेश यादव का गृह जिला है।
6. योजनाओं से समाजवादी शब्द हटाया
योगी सरकार ने अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट्स को बंद करने के अलावा समाजवादी पार्टी के नाम से चल रही योजनाओं के नाम भी बदले हैं। इन योजनाओं में अब समाजवादी की जगह मुख्यमंत्री शब्द जोड़ा जाएगा।
7. गोरखपुर पहुंचेगी मेट्रो
योगी आदित्यनाथ ने न सिर्फ अखिलेश सरकार की योजनाओं को बंद किया है। बल्कि कुछ जगह उसको नए रूप में आगे बढ़ाने का भी फैसला लिया है। यूपी में मेट्रो प्रोजेक्ट के तहत लखनऊ और कानपुर जैसे बड़े शहरों को ही चुना गया था लेकिन योगी आदित्यनाथ ने आगे बढ़ते हुए मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में गोरखपुर को शामिल करने का फैसला लिया है।


Create Account



Log In Your Account