• Google

योगी सरकार की पहली कैबिनेट मीटिंग आज, हो सकता है किसानों का कर्ज माफ!

By: admin
04-04-2017 13:34:25 PM

मीटिंग में अवैध बूचडख़ानों के रेग्युलेशन, मांस कारोबारियों के लाइसेंस, बुंदेलखंड को मदद देने के उपायों और पूर्वांचल की समस्याओं को लेकर अहम निर्णय लिए जा सकते हैं

 


लखनऊ। योगी सरकार की पहली कैबिनेट मीटिंग मंगलवार शाम 5 बजे से होगी। मीटिंग में किसानों की कर्ज माफी समेत कई अहम फैसले लिए जा सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, मीटिंग में अवैध बूचडख़ानों के रेग्युलेशन, मांस कारोबारियों के लाइसेंस, बुंदेलखंड को मदद देने के उपायों और पूर्वांचल की समस्याओं को लेकर अहम निर्णय लिए जा सकते हैं। बता दें, योगी सरकार के मंत्रियों ने बीते 19 मार्च को शपथ ली थी, जिसके बाद 16वें दिन ये मीटिंग होने जा रही है। पहली कैबिनेट मीटिंग में प्रदेश के छोटे किसानों पर होने वाले फैसले पर सभी की नजर रहेगी। इस फैसले के बाद राज्य के किसानों को बड़ी राहत मिलेगी। हालांकि, ये फैसला राज्य सरकार के लिए बेहद चुनौती भरा होगा। कर्ज माफी के बाद सरकार को रकम का भुगतान बैंकों को करना पड़ेगा। इसके लिए राज्य के आला अधिकारी 19 मार्च (शपथ ग्रहण) के बाद से ही कवायद में जुटे हैं। इससे किसानों की माली हालत काफी खराब हो गई है। एग्रीकल्चर सेंसस 2010-11 के मुताबिक, राज्य में लगभग 2.30 करोड़ किसान हैं। इसमें छोटे किसानों की संख्या 2.15 करोड़ है।
25 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार


कमीशन की सिफारिशें लागू होने के कारण राज्य सरकार पर करीब 25 हजार करोड़ रुपए सालाना अतिरिक्त खर्च आएगा। इस खर्च को उठाने के लिए वित्त मंत्रालय के अनुदान संख्या-32 के तहत ट्रांसफर-टू-स्टेट मद से मदद लेनी पड़ेगी। कर्ज माफी के लिए राज्य सरकार को अतिरिक्त लोन की जरूरत होगी। योगी सरकार केंद्र से कर्ज के लिए बॉन्ड की रकम और उस पर लगने वाले इंटरेस्ट को एफआरबीएम एक्ट के तहत लोन लिमिट से बाहर रखने की रिक्वेस्ट करेगी।


Create Account



Log In Your Account