• Google

कांग्रेस के बजट पर काम कर रही आप पार्टी

By: admin
30-03-2017 15:02:07 PM

एमसीडी चुनाव को लेकर सिटिंग काऊंसलर शोएब दानिश ने कहा

एमसीडी चुनाव की तैयारियों में लगी सभी पार्टियां अपने अपने वार्ड में काम कराने में लगी हुई हैं। कॉरपॉरेशन चुनाव में जहां कुछ नए चेहरों को उतारने की बात चल रही है तो वहीं कुछ पुराने चेहरों को ही टिकट मिलने की उम्मीद है। इन्ही सब मुद्यों पर कांगे्रस के ओखला काउंसलर ने जय हिन्द जनाब की संवाददाता शाहीन खान से खास बातचीत

एमसीडी चुनाव को आप कैसे देखते हैं? क्या कुछ तैयारियां हैं इसे लेकर?
एमसीडी कॉर्पोरेशन का चुनाव सीधे तौर पर लोगों की समस्याओं का चुनाव है। इसमें सफाई व्यवस्था इलाके की ठीक हो, सीवर लाइनें, समय पर लाईट और लोगों को पीने का पानी मुहया कराना है।
चुनावी एजेंडा क्या है इस बार एमसीडी चुनाव का मैनिफेस्टो कोई तैयार किया है?

एमसीडी  देखिए, इस बार बच्चों की शिक्षा पर ज्यादा ध्यान देंगे। हमारे कॉर्पोरेशन के जो स्कूल हैं उन्हें हम नई बिल्डिंग बनवानेे वहां सुख सुविधा देने के लिए जरूरी काम कराएंगे जिससे बच्चों को स्कूल जाने में कोई दिक्कत ना आए। दूसरा हम अतिक्रमण को खत्म कर आएंगे जिससे आए दिन ओखला की सड़कों पर जाम लग जाता है इसे दूर करने की कोशिश करेंगे। इस पर बहुत काम करना है। तीसरा हमारा प्रपॉजल है पार्किंग बनाने का। इस वार्ड के अंदर हम एक बड़ी पार्किंग मल्टीलेवल पार्किंग बनाने की सोच रहे हैं। जिस तरह से सराय जुलाना में मल्टीलेवल पार्किंग है उसी तरह से पार्किंग बनाने का प्रपोजल बनाया गया है।  यहां एक बड़ा एमसीडी पार्क है जिसकी जमीन को हम उस पार्किंग के लिए इस्तेमाल करने के लिए सोच रहे हैं यदि मैं जीता हूं तो मैं इन कामों पर पूरा फोकस करूंगा।
'आपÓ के विधायक ने  ओखला में काम किया है। उनका कहना है कि आज तक तो किसी विधायक ने इतना काम नहीं किया?
पूरी दिल्ली का इतिहास है कि विधानसभा में ओखला का सबसे बड़ा बजट लेकर आए शीला दीक्षित, संदीप दीक्षित और आसिफ मौहम्मद का हाथ रहा है। जो मौजूदा विधायक से पूरा नहीं हो रहा है। अभी पिछला हमारा कांग्रेस के समय का नहीं खत्म नहीं हुआ है। जितने भी विकास के काम किए जा रहे हैं। वही पूरे हो रहे हैं कुछ भी नया नहीं है। यह 2013-14 का वर्क टेंडरÓ है। जो हमारी दिल्ली सरकार ने दिया था। झूठ बोलने में पूरी दिल्ली सरकार के सभी एमएलए मंत्री आगे हैं। उस वक्त के टेंडर से ही यह पानी की लाइनें और सीवर लाइन डलवा ही जा रही हैं। ओखला  में मेट्रो संदीप दीक्षित लाए पार्टी ने कितना काम किया है। वह मौजूदा सरकार कभी नहीं कर सकती।
कॉरपॉरेशन चुनाव में ईवीएम की जगह बैलेट पेपर की मांग की जा रही है?
इवीएम जी बिल्कुल गड़बड़ी तो थी। सबसे पहले कांग्रेस नहीं दिल्ली सरकार ईवीएम को लेकर चि_ी लिखी थी। उसके बाद ही है मांग की गई की कॉरपोरेशन का चुनाव में ईवीएम की जगह बैलट पेपर पर कराया जाए। मुझे नहीं लगता कि इस से किसी को परेशानी हो सकती है। दिल लोगों के मन में ऐसी गलत बात आ रही है। तो इसे साफ करवाने के लिए बैलेंस पेपर पर ही चुनाव कराए जाने चाहिए।
उत्तर प्रदेश में कांग्रेस सरकार बुरी तरह से  हारी। आपको नहीं लगता राहुल गांधी के नेतृत्व पर सवाल खड़ा कर दिया है?
ठ्ठ उत्तर प्रदेश में तो कांग्रेस कभी थी ही नहीं। देखिये, उसमें समाजवादी का वोट बैंक कटा, मायावती का वोट बैंक कटा और इससे बीजेपी को फायदा हुआ। इसमें राहुल गांधी के नेतृत्व पर कोई सवाल नहीं उठता। उन्होंने कोशिश की पार्टी ने कोशिश की यदि हम जीत नहीं सके तो इसमें कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व पर कोई सवाल नहीं खड़ा होता है। आगे के लिए हम काम के लिए तैयारी कर रहे हैं।


Create Account



Log In Your Account