• Google

संघर्षरत नेताओं को मिलेगा इनाम!

By: admin
17-03-2017 13:41:31 PM

नोएडा। भाजपा में मंत्री रहे नवाब सिंह नागर और जिलाध्यक्ष एवं दर्जा प्राप्त मंत्री रह चुके हरीश चंद भाटी काफी सालों से पार्टी के लिए संघर्षरत हैं। बावजूद इसके दोनों ही उपेक्षित चल रहे हैं। 2014 लोकसभा चुनाव में दोनों ही नेता टिकट के दावेदार थे, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिल पाया, जिसके बाद उन्होंने भाजपा के लिए जमकर प्रचार किया। 
नवाब सिंह नागर ने जनता पर पकड़ बनाने के लिए डीएनडी फ्री कराने जैसे मुद्दे को लेकर धरना प्रदर्शन किया। इसके बाद यमुना प्राधिकरण का घेराव किया। विधानसभा चुनाव में भी उन्हें दादरी से टिकट मिलने की उम्मीद थी लेकिन किन्ही कारणों से उन्हें टिकट नहीं मिल पाया। फिर भी उन्होंने पार्टी के लिए दादरी, नोएडा और जेवर में जमकर प्रचार किया। 
ठीक इसी तरह हरीश चंद भाटी ने लोकसभा चुनाव में भाजपा के लिए गौतमबुद्घ नगर में ही नही बल्कि यूपी, राजस्थान समेत कई राज्यों में जाकर प्रचार किया। दोनों ही नेता काफी समय से उपेक्षित चल रहे हैं। लेकिन अब प्रदेश में उन्हें पार्टी की ओर से अच्छे पद मिल सकते हैं। उनके संघर्ष का पार्टी के वरिष्ठ नेता मूल्यांकन कर रहे हैं। 


Create Account



Log In Your Account