• Google

बनारस जीतने को पीएम ने झोंकी ताकत

By: admin
04-03-2017 15:39:12 PM

अखिलेश-राहुल और मायावती ने भी लगाया जोर

वाराणसी। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनारस में पूरी ताकत झोंक दी है।

 

तीन दिन तक पीएम यहीं डेरा डालकर हर सीट पर जनसभाएं करेंगे। सपा अध्यक्ष एवं यूपी के सीएम अखिलेश यादव व कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी यहां जोर लगाना शुरू कर दिया है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी बनारसिया गलियों में जनसंपर्क बढ़ाएंगी और अपने उम्मीदवारों के पक्ष में रैलियां करेंगे। 

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनारस में रोड शो की शुरुआत बनारस यूनिवर्सिटी के गेट पर मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा माल्यार्पण कर की। उनकी यात्रा काशी विश्वनाथ मंदिर पर जाकर खत्म होगा। उनकी सुरक्षा में भारी संख्या में पुलिस बल के साथ-साथ एसपीजी के जवान भी तैनात हैं। 

यूपी में सातवें फेज की वोटिंग से पहले सभी दलों के लिए प्रचार का फोकस बनारस और उसके आसपास की सीटों पर है। 8 मार्च को होने वाली वोटिंग से पहले सभी दलों ने पूरी ताकत झोंक दी है। शाम तक वे तीन सभाओं को भी संबोधित करेंगे। 

 

प्रतिष्ठा दांव पर, 11 मंत्री भी साथ में

राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, पीयूष गोयल, रविशंकर प्रसाद, स्मृति ईरानी, संतोष गंगवार, कलराज मिश्र, वेंकैया नायडू, जेपी नड्डा, अनुप्रिया पटेल और महेेंद्र पांडे में भी दो दिन वाराणसी और उसके आसपास के इलाकों में एक्टिव रहेंगे और प्रचार में पूरा जोर लगाएंगे।

 

बनारस में कितनी विधानसभा सीटें

वाराणसी में 8 विधानसभा सीटें हैं। इसमें पिंडरा- कांग्रेस, अजगरा (सु)- बसपा, शिवपुर- बसपा, वाराणसी उत्तरी-बीजेपी, वाराणसी दक्षिणी- बीजेपी, वाराणसी कैंट- बीजेपी, सेवापुरी- सपा के पास है।

 

अहम क्यों

बनारस पर फोकस की एक वजह तो ये है कि वाराणसी मोदी का संसदीय क्षेत्र है, जबकि बीजेपी का प्लान था कि पश्चिम के चुनाव पर दिल्ली से फोकस किया जाएगा। पूर्वांचल की 89 सीटें इसलिए बड़े नेता डेरा डाले हुए हैं। 

 

माया का दम

बीएसपी मुखिया मायावती भी आज बनारस में ही हैं। शहर के बाहर जगतपुर डिग्री कॉलेज में उनकी सभा का आयोजन हुआ।

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में हुई बीएसपी सुप्रीमो की पहली जनसभा को लेकर पार्टी की ओर से व्यापक तैयारी की गई थी। मोदी के गढ़ में मायावती इस सभा में बड़ा हमला किया। शहर में एसपीजी के साथ भारी पुलिस फोर्स शहर के कोने-कोने में तैनात की गई है। 

 

चुनौती देते यूपी के 'लड़के'

यूपी की सत्ता हासिल करने के लिए चल रही चुनावी जंग में पीएम को उनके गढ़ में ही टक्कर देने के लिए सपा-कांग्रेस गठबंधन की ओर से सीएम अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी रोड शो किया। पहली बार रोड शो में सीएम के साथ उनकी पत्नी डिंपल यादव थीं। आठ किलोमीटर का यह रोड शो 5 घंटे तक चला। जिस समय राहुल-अखिलेश का रोड शो शुरू हुआ। उस समय मोदी जौनपुर में सभा को संबोधित कर रहे थे।


Create Account



Log In Your Account