600 अंक टूटा सेंसेक्स, शेयर बाजार में मची खलबली

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

मुंबई। सोमवार को शेयर बाजार में हाहाकार मच गया। सेंसेक्स 468.59 अंक यानी 1.31 फीसद और निफ्टी 185 अंक यानी 1.73 फीसद कमजोर होकर खुला और देखते-ही-देखते गिरावट का दायरा बढ़ता चला गया। 9:48 बजे तक सेंसेक्स के सभी 31 और निफ्टी के सभी 50 शेयर लाल निशान में चले गए। हालत ऐसी रही कि 10:38 बजे तक शेयर बाजार में बिकवाली का ऐसा जोर पकड़ा कि सेंसेक्स 609.58 अंक (1.71त्न) टूटकर 35,063.67 और निफ्टी 187.50 अंक (1.75त्न) की कमजोरी के साथ 10,506.20 पर आ गया। आखिर, शेयर बाजार में इतनी बड़ी गिरावट के क्या कारण हैं?

असर : एग्जिट पोल में बीजेपी को झटका
शुक्रवार को आए एग्जिट पोल में कहा गया है कि राजस्थान में बीजेपी के हाथ से सत्ता छिन सकती है और मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में उसका कांग्रेस के साथ करीबी मुकाबला है। इन तीनों के साथ तेलंगाना और मिजोरम में हुए चुनाव के वोटों की गिनती मंगलवार को होगी। पांच राज्यों के चुनाव के नतीजे शुक्रवार को आएंगे। इन्हें 2019 लोकसभा चुनाव से पहले सेमीफाइनल माना जा रहा है।

तेल उत्पादन में कटौती का ऐलान
कच्चा तेल निर्यात करने वाले 14 बड़े देशों के समूह ओपेक और 10 अन्य तेल उत्पादक देशों ने कच्चे तेल की गिरती कीमतों को थामने के मकसद से तेल उत्पादन में 1.2 मिलियन बैरल प्रतिदिन की कटौती का फैसला लिया है। 6 दिसंबर की महाबैठक में आए इस फैसले को मोदी सरकार को 2019 के लोकसभा चुनाव में झटके के तौर पर देखा जा रहा है।

कृषि क्षेत्र का संकट : अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसी नोमुरा का कहना है कि अगर राज्य विधानसभा चुनावों के परिणामों में बीजेपी का प्रदर्शन खराब रहता है तो इसका मतलब यह होगा कि कृषि क्षेत्र गंभीर स्थिति का सामना कर रहा है। उसने कहा कि इन तीन राज्यों में ज्यादातर आबादी कृषि क्षेत्र पर ही आश्रित है। लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन की कोशिशें तेज हो सकती हैं।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें