प्राधिकरण के प्रबंधक वेदपाल सहित आज होंगे 12 कर्मचारी सेवानिवृत

नोएडा। प्राधिकरण में आज 12 से अधिक अधिकारी एवं कर्मचारी रिटायर हो रहे हैं। सामान्य प्रशासन के प्रबंधक वेदपाल का नाम भी इस सूची में शुमार है। वेद पाल ने अलग-अलग विभागों में रहकर अपनी सेवाएं दी हैं। वेदपाल अपने कुशल व्यवहार के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने आरडब्लूए के मामलों में भी तत्परता से कार्यवाही करते हुए प्राधिकरण की छवि को बेहतर किया था। आज सेक्टर छह स्थित इंदिरा गांधी कला केंद्र में विदाई समारोह किया जाएगा। इसके अलावा रामकिशन शर्मा, कुमारी कमलेश, ओम प्रकाश, रामपत प्रकाश, चरण सिंह,…

और पढ़ें >>

शाहबेरी: बीच का रास्ता निकालने में जुटा प्रशासन

नोएडा। शाहबेरी में अवैध इमारतों का मामला अब जिला प्रशासन और प्राधिकरण के लिए नासूर बन रहा है क्योंकि एक तरफ वे लोग है जिन्होंने अपनी जिंदगी भर की कमाई भूमाफियाओं के हवाले अपने लिए दो कमरों का एक घर ले लिया। दूसरी ओर भूमाफिया है जिन्होंने प्राधिकरण की जमीन पर कब्जा करके वहां फ्लैट बनवाए और उन्हें भोली-भाली जनता को बेच दिया। ऐसे में शासन-प्रशासन बीच का रास्ता निकालने में जुट गया है क्योंकि फ्लैट टूटे तो कई सौ लोग बेघर हो जाएंगे। इस मामले में भूमाफिया एवं बिल्डरों…

और पढ़ें >>

कैफे कॉफी डे के मालिक का नदी में मिला शव

मैंगलुरु। ‘कैफे कॉफी डेÓ के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ का शव कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में नेत्रावती नदी में बुधवार को मिला। सिद्धार्थ सोमवार से लापता थे। उनका शव उल्लाल के निकट नदी किनारे आ गया था और स्थानीय मछुआरों ने उसे निकाला। मैंगलुरू के विधायक यू टी खादर ने बताया कि मित्रों और संबंधियों ने इस बात की पुष्टि की है कि शव सिद्धार्थ का ही है। इससे पहले पुलिस ने कहा था कि शव सिद्धार्थ का प्रतीत होता है और अभी उनके परिवार से इसकी पुष्टि नहीं की…

और पढ़ें >>

विधायक ने समस्याएं जानते ही निस्तारण का दिलाया भरोसा

नोएडा। शहर विधायक पंकज सिंह ने आज गांव हाजीपुर में पहुंच जनसंवाद किया। यहां विधायक के समक्ष लोगों ने कई समस्याएं रखी। जिसमें बरात घर में किचन बनवाना और प्राइमरी स्कूल में बच्चों के खेलने के लिए प्लेग्राउंड बनवाने की मांग रखी। इसके अलावा कुछ अन्य समस्याएं थी जिनको विधायक ने पहले निस्तारित कराया था। इसके बाद पंकज सिंह गांव गेझा के शिव मंदिर पहुंचे। यहां भी लोगों से उन्होंने जनसंवाद किया और प्राधिकरण की टीम को लेकर वे लोगों के बीच गए ताकि समस्या का पता चलते ही उसका…

और पढ़ें >>