स्टार्ट-अप एक्सपो का किया आयोजन

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें
  • 1
    Share

नई दिल्ली। स्टार्ट-अप को सफल बनाने के भारत के सबसे बड़े इकोसिस्टम स्टार्ट-अप एक्सपो का तीसरा और सबसे सफल संस्करण आज नई दिल्ली में संपन्न हुआ। दि इंडस एंटरप्राइजर्स (टीआईई) के दिल्ली चैप्टर ने लुफ्थांसा इंडिया के साथ मिलकर एक्सपो का आयोजन किया, जिसमें देशभर के कई शहरों के 19,000 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इनमें 100 से अधिक प्रतिष्ठित व्यापार विशेषज्ञ, लगभग 500 स्टार्ट-अप प्रदर्शनीकर्ता और 100 निवेशक शामिल हैं।
इस एक दिवसीय आयोजन में अगस्त में लुफ्थान्सा द्वारा शुरू की गई ‘एलिवेटर पिचÓ प्रतियोगिता के पहले सीजऩ के ग्रैंड फिनाले की मेजबानी भी की। इनोवीव बायोकेयर की सह-संस्थापक मानसी कुलकर्णी 500 से ज्यादा प्रतिस्पर्धियों को पीछे छोड़कर विजेता बनकर उभरीं। मानसी ने सिर्फ तीन मिनट के वक्त में अपनी पिच बनाकर अपने व्यवसायिक कौशल को प्रदर्शित किया। मानसी को यूके में प्रतिष्ठित कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में ग्लोबल आंत्रप्रेन्योरशिप प्रोग्राम में प्रायोजित सीट, लुफ्थांसा की ओर से यूरोप जाने के लिए बिजनेस क्लास टिकट के साथ-साथ टीआईई दिल्ली-एनसीआर से प्रतिष्ठित मेंटरशिप का भव्य पुरस्कार जीता है।
लुफ्थांसा ग्रुप एयरलाइन में साउथ एशिया डायरेक्टर वुल्फगैंग विल ने कहा, स्टार्ट-अप एक्सपो की जबरदस्त प्रतिक्रिया ने पिछले तीन वर्षों में जबरदस्त वृद्धि दर्ज की है। आज यह भारत का सबसे बड़ा इकोसिस्टम बन चुका है। यह भी इस तथ्य की पुष्टि है कि भारत में युवा उद्यमी अपने सपनों का पीछा कर रहे हैं। नई संभावनाओं को तलाश रहे हैं। हम सपने से सफलता के लिए छलांग लगाने में सक्षम होने के लिए पूरी तरह से विशेषाधिकार महसूस करते हैं।
वुल्फगैंग विल ने कहा, लुफ्थान्सा की तरफ से मैं मानसी को उनकी बेहतरीन जीत के लिए बधाई देता हूं। मैं अपने सभी भागीदारों, प्रतिभागियों और बिजनेस लीडर्स की भी प्रशंसा करना चाहूंगा जिनके योगदान ने इसे अब तक का सबसे बड़ा संस्करण बना दिया है। एक्सपो में रमेश अभिषेक, माननीय सचिव, औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग (डीआईपीपी); राजन आनंदन, अध्यक्ष- टीआईई दिल्ली-एनसीआर और वीपी- एसई एशिया और भारत- गूगल; हेइक बर्लेंबैक, सीनियर वीपी-लुफ्थान्सा ग्रुप एयरलाइंस और सीसीओ हब फ्रैंकफर्ट; डॉ सौरभ श्रीवास्तव, प्रेसिडेंट एमिराट्स, टीआईई दिल्ली-एनसीआर और वाणी कोला, एमडी, कलारी कैपिटल समेत प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों ने भाग लिया। इसके अलावा प्रमुख भारतीय निवेशकों और पार्टनर्स जिनमें स्टार्ट-अप इंडिया और स्मॉल इंडस्ट्री डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया (सिडबी) समेत सरकारी अधिकारियों, व्यापार विशेषज्ञों, सलाहकारों, निगमों, सहायता एजेंसियों, उद्योग संघों और संभावित ग्राहक भी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

टीआईई दिल्ली-एनसीआर की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर गीतिका दयाल ने कहा, “स्टार्ट-अप एक्सपो भारत में उद्यमी क्रांति में एक महत्वपूर्ण उत्प्रेरक है। इस साल अपने तीसरे संस्करण की असाधारण प्रतिक्रिया इस बात की गवाही देती है।लुफ्थांसा के साथ, हमें भारत में स्टार्ट-अप को सफल बनाने के लिए बनाए इस मूल्यवान पर हमें गर्व है।”

यह अनूठी पहल तीन साल पहले शुरू हुई थी और पूरी ताकत से बढ़ रही है। आज यह देशव्यापी आंदोलन बन चुका है। इसे उद्यमियों को आगे बढ़ाने और समर्थन देने वाले एक प्लेटफार्म के तौर पर पहचान मिली हुई है। पिछले तीन साल में स्टार्ट-अप एक्सपो ने 500 से अधिक स्टार्ट-अप और 1200 से अधिक निवेशकों की बैठकों को सुनिश्चित किया है। इसमें 19,000 से अधिक लोगों की उपस्थिति रही है।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें
  • 1
    Share

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment