सिपाही ने पहले लिखा अलविदा फिर यमुना में लगादी छलांग

इलाहाबाद। यमुना के नए पुल से गुरुवार को एक सिपाही के छलांग लगा दी। हाईकोर्ट सुरक्षा में तैनात सिपाही मो. फैजान खान ने अपने एक दोस्त को सुबह मोबाइल पर मैसेज किया कि वह दुनिया छोड़ रहा है। यमुना पुल से कूदकर जान देने जा रहा है। उसने मोबाइल पर अलविदा का मैसेज लिखा और मोबाइल बंद कर दिया।
दोस्त ने घबराया कर पुलिस को सूचना दी। दोस्त नए यमुना पुल पर पहुंच गया। पुल पर सिपाही की बाइक खड़ी थी।
साथ ही उसका सुसाइड नोट भी रखा था। इसके बाद तो पुलिस अधिकारी भी पहुंच गए। गोताखोरों को पानी में उतारा गया लेकिन सिपाही का पता नहीं चल सका। एसपी दीपेंद्र चौधरी का कहना है कि सिपाही को कूदते किसी ने नहीं देखा। अभी साफ तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता। सिपाही ने आत्महत्या के लिए एक लड़की को जिम्मेदार बताया है। उसका कहना है कि लड़की उसे ब्लैकमेल कर रही थी। बांदा के कोतवाली नगर निवासी मोहम्मद फैजान खान वर्ष 2015 में सिविल पुलिस में भर्ती हुआ था।
इन दिनों फैजान हाईकोर्ट की सुरक्षा में तैनात था। पुलिस चौकी के बैरक में ही रहता है। गुरुवार की सुबह दस बजे वह बैरक से निकला। इसके बाद उसने दोस्त को जानकारी दी कि वह आत्महत्या करने जा रहा है। पुलिस अब मामले की छानबीन कर रही है।

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment