शहर में डेंगू से हुई पहली मौत, 42 और मरीजों में डेंगू की पुष्टि

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें
  • 1
    Share

कानपुर। शहर में डेंगू से मौत का इस सीजन का पहला मामला सामने आया है। गुरुवार को डेंगू से पीडि़त एक युवक की मौत हो गई। वह निजी नर्सिग होम में इलाज करा रहा था। वहीं 42 और मरीजों में डेंगू की पुष्टि की गई है। इससे डेंगू पॉजीटिव मरीजों का कुल आंकड़ा 499 पर पहुंच गया है।
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी डेंगू नियंत्रित करने का दावा भले ही कर रहे हों लेकिन ये बीमारी अब जानलेवा साबित होने लगी है। इसका पहला शिकार कल्याणपुर निवासी 19 वर्षीय युवक बना है। पांच दिन पहले बुखार आने पर इसे सर्वोदय नगर स्थित एक निजी नर्सिग होम में भर्ती कराया गया था। इलाज कर रहे डॉक्टरों ने डेंगू का संदेह जताते हुए निजी लैब में जांच कराई तो पुष्टि हो गई। गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे आइसीयू में रखा गया था। गुरुवार शाम अचानक उसकी मौत हो गई। शहरी मलेरिया इकाई के प्रभारी डॉ. आरएन सिंह का कहना है कि डेंगू से युवक की मौत की जानकारी हुई है। क्षेत्र के मलेरिया अधिकारी को इसकी पुष्टि करने के लिए के आदेश दिए गए हैं। अगर पुष्टि होती है तो निरोधात्मक कार्रवाई कराई जाएगी।
जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग की लैब में गुरुवार को डेंगू के 129 संदिग्ध मरीजों के रक्त नमूने की जांच की गई। इनमें से 42 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज में अब तक 2021 संदिग्ध मरीजों में से जांच के बाद 499 मरीज डेंगू पॉजीटिव पाए गए हैं।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें
  • 1
    Share

संबंधित ख़बरें