मोदी पर बरसीं माया

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें


नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में चुनाव रोचक स्थिति में है। 12 मई को होने वाले मतदान के लिए आज शाम पांच बजे प्रचार बंद हो जाएगा। पीएम और राहुल की रैली के बाद प्रियंका का रोडशो के बाद आज बसपा सुप्रीमो रैली करेंगी। इससे पहले उन्होंने लखनऊ से ही पीएम पर निशाना साधा। उन्होंने कहा है कि पीएम राजनीतिक स्वार्थ के लिए जबरदस्ती पिछड़ी जाति के बने हैं। अगर मोदी जन्म से पिछड़ी जाति के होते तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) उन्हें कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बनाती।
मायावती ने एक के बाद एक दो ट्वीट करके पीएम पर निशाना साधा। मायावती ने पहले ट्वीट से मोदी के गठबंधन पर जातिवादी होने के लगाए गए आरोप पर पलटवार किया है। मायावती ने ट्वीट किया, ‘पीएम मोदी ने अब और कुछ नहीं तो गठबंधन पर जातिवादी होने का जो आरोप लगाया है, वह हास्यास्पद और अपरिपक्व है। जातिवाद के अभिशाप से पीड़ित लोग जातिवादी कैसे हो सकते हैं? मोदी जन्म से ओबीसी नहीं हैं, इसीलिए उन्होंने जातिवाद का दंश नहीं झेला है और ऐसी मिथ्या बातें करते हैं।Ó

‘सियासी स्वार्थ के लिए पिछड़ी जाति का होने का दावाÓ
मोदी के आरोप को हास्यास्पद और अपरिपक्क बताने के बाद मायावती ने दूसरा ट्वीट करके पीएम मोदी पर आरोप लगाया कि वह राजनीतिक स्वार्थ के लिए पिछड़ी जाति का होने का दावा करते हैं। मायावती ने कहा, ‘मोदी अपने को जबरदस्ती पिछड़ा बनाकर जातिवाद का खुलकर राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस्तेमाल करते हैं। वे अगर जन्म से पिछड़े होते तो क्या आरएसएस उन्हें कभी भी पीएम बनने देती?Ó
कल्याण सिंह के बहाने आरएसएस पर भी हमला
इतना ही नहीं मायावती ने यह भी आरोप लगाया कि कल्याण सिंह पिछड़ी जाति के हैं, इसलिए आरएसएस ने उन्हें साइडलाइन कर दिया है। आपको बता दें कि कल्याण सिंह लोधी जाति के हैं। मायावती ने उनके लिए ट्वीट में लिखा, ‘कल्याण सिंह जैसों का आरएसएस ने क्या बुरा हाल किया है। यह देश क्या नहीं देख रहा है?Ó

दिल्ली में वोट से पहले आप और भाजपा में छिड़ी जंग
नई दिल्ली। दिल्ली में 12 मई को होने वाले मतदान के पहले आम आदमी पार्टी (आप) और बीजेपी में जुबानी जंग तेज हो गई है। अभद्र पर्चा बांटने के आतिशी के आरोप पर पूर्वी दिल्ली से बीजेपी प्रत्याशी गौतम गंभीर द्वारा दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को मानहानि नोटिस भेजने के बाद सिसोदिया भड़क गए।
मनीष सिसोदिया ने प्रतिक्रया देते हुए सिसोदिया ने ट्वीट किया, ‘गौतम गंभीर चोरी और सीनाजोरी? इस घिनौनी हरकत के लिए तुम्हें माफी मांगनी चाहिए थी और मानहानि की धमकी दे रहे हो? उलटा चोर कोतवाल को डांटे? मानहानि हम करेंगे- तेरी हिम्मत कैसे हुई ये पर्चा बांटने की, और बेशर्मी से उसका झूठा इल्जाम सीएम पर लगाने की?Ó इसके जवाब में बीजेपी ने भी तीखा पलटवार किया और सिसोदिया के ट्वीट पर उसी भाषा में जवाब देते हुए लिखा, ‘बेशर्मी की बात तुम तो ना ही करो। तुम लोगों की आदत है थूक कर चाटने की। पहले भी बहुत बार किया है तुमने और ये जो तूने वोट के लिए घटिया हरकत की है उसकी भारी कीमत चुकाएगा।

इस बार नहीं बचोगे तुम। इस बार माफी नहीं मिलेगी।’

क्या है पूरा मामला
बता दें कि पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से बीजेपी के कैंडिडेट गौतम गंभीर ने सीएम अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और ‘आप’ कैंडिडेट आतिशी मार्लेना को मानहानि का नोटिस भेजा है। पूर्व क्रिकेटर ने तीनों नेताओं को उन आरोपों के लिए यह नोटिस भेजा है, जिसमें उन्होंने आतिशी मार्लेना के खिलाफ आपत्तिजनक पर्चे बंटवाने का आरोप लगाया था। इन आरोपों से गुस्साए गौतम गंभीर ने चुनौती देते हुए कहा था कि यदि आरोप साबित होते हैं तो वह अपनी उम्मीदवारी ही वापस ले लेंगे।

पढ़ें: गौतम गंभीर ने आतिशी, अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को भेजा मानहानि नोटिस

आतिशी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर गंभीर पर लगाए आरोप
गुरुवार को आतिशी मार्लेना और मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में आतिशी के खिलाफ पर्चे बंटवाने का आरोप गंभीर पर लगाया था। इन पर्चों के बारे में जिक्र करते हुए आतिशी भावुक होकर रोने भी लगी थीं। हालांकि, गंभीर ने भी इस पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कई ट्वीट किए थे।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें