बुलंदशहर >> क्या थी बड़ी साजिश क्यों छुपा रही पुलिस

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

स्याना मामले में डीजीपी का बड़ा बयान, बड़ी साजिश बताया

बुलंदशहर। स्याना में कोतवाल की निर्मम हत्या की वारदात के बाद पुलिस कार्रवाई संदेह के घेरे में आ रही है। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि बुलंदशहर में हुई यह घटना एक बड़ी साजिश है। आखिर क्या साजिश है? इसका उन्होंने खुलासा नहीं किया। यहां पर पुलिस के आला अफसर भी पहुंचे और उन्होंने केवल आरोपियों के नाम बताने के बाद संगठनों का नाम लेना कदापि सही नहीं बताया।

फिलहाल तो एसआईटी इस मामले में जांच कर रही है लेकिन जिस तरह से मुख्य आरोपी योगेश राज ने अपना एक वीडियो बनाया और खुद को निर्दोष बताते हुए इस वीडियो को चारों तरफ वायरल किया। इससे पता चल रहा है कि पुलिस कितने सतर्कता से काम कर रही है।

ग्रामीणों की माने तो कई दिनों से कुछ युवक उन्हें भगाने की कोशिश कर रहे थे। बार-बार आकर नए-नए तथ्य बताए जाते थे जो बिल्कुल खोखले थे। इसके बाद अचानक से कुछ युवकों का झुंड आता है और ग्रामीणों को ट्रैक्टर ट्रॉली में जल्दी बैठ कर चलने की बात कहता है। अब तक ग्रामीणों को नहीं पता कि आखिर क्या हुआ था।

अचानक वे स्याना थाने के पास बनी चौकी पर पहुंचकर हमला कर देते हैं। दूसरी ओर गोकशी के मामले में दर्ज कराए गए नाम भी हवा हवाई साबित हो रहे हैं। जिन लोगों के नाम गोकशी में दर्ज हैं उन्हें गांव छोड़े हुए 10 साल हो चुके हैं और यह कभी गांव की ओर आते भी नहीं है। यह दावा हमारा नहीं बल्कि नया गांव में मौजूद लोगों का है। एफआईआर में दो बच्चों का भी नाम है। पुलिस को अब इस मुकदमे में नए सिरे से जांच पड़ताल करने की जरूरत है।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment