नौ साल की बच्ची से गैंगरेप; आंखें निकालीं, एसिड डालकर दफनाया

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के बारामूला में कठुआ गैंगरेप-हत्या जैसा मामला सामने आया है। पुलिस के मुताबिक, 14 साल के सौतेले भाई ने मां की शह पर अपने तीन दोस्तों के साथ बच्ची से गैंगरेप किया। उसकी आंखें निकाल ली गईं। उसके प्राइवेट पार्ट और छाती पर एसिड डाला गया। बाद में महिला ने उसे उड़ी में अपने घर के नजदीक जंगल में दफन करवा दिया।

पुलिस के मुताबिक, बच्ची 23 अगस्त से लापता थी। उसके पिता ने थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। बच्ची का शव रविवार को जमीन से निकाला गया।

जांच में पता चला कि लड़की को चाकू की नोक पर अगवा कर उससे सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। चाकू सौतेली मां के हाथ में था। पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। चाकू और एसिड वाला केन जब्त कर लिया गया।
पिता का बदला बेटी से : बारामूला के एक वरिष्ठ पुलिस अफसर मीर इम्तियाज हुसैन ने कहा कि परिवार में जलन और बदले की भावना से इस घटना को अंजाम दिया गया। मामले की जांच के लिए एक स्पेशल टीम बनाई गई है। आरोपी मां ने पूछताछ में बताया कि उसके पति की एक और पत्नी है। मारी गई लड़की उसी की बेटी थी। पति का उन दोनों से ज्यादा लगाव था, जो उसे बर्दाश्त नहीं था।
कठुआ में आठ साल की बच्ची से हुई थी हैवानियत : जम्मू के कठुआ जिले में 10 जनवरी को आठ साल की बच्ची को अगवा किया गया था। कथिततौर पर उसे रासना गांव के एक मंदिर में बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया। बाद में गला घोंटकर हत्या कर दी गई। फिर पत्थर से सिर कुचल दिया गया। 17 जनवरी को उसका शव मिला। इस मामले में आठों आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment