नए साल का संकल्प : शौचालयों के घोटाले को उजागर कराएगा फोनरवा

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

शहर को स्वच्छ बनाना, फ्री होल्ड के साथ-साथ प्राधिकरण की मनमानी पर अंकुश लगाना होगी प्राथमिकता : एनपी सिंह

नोएडा। फोनरवा ने नए साल के लिए आधा दर्जन से अधिक संकल्प लिए हैं। सबसे बड़ा संकल्प शहर को स्वच्छ बनाना है।

फोनरवा अध्यक्ष एमपी सिंह ने बताया कि शहर को ओडीएफ के साथ-साथ स्वच्छ बनाने के लिए सभी आरडब्लूए काम करेंगे। इसके अलावा नए साल का सबसे बड़ा संंकल्प नोएडा के आवासीय सेक्टरों को फ्री होल्ड कराना और अलग-अलग स्थान पर निर्माण किए गए शौचालयों का घोटाला उजागर करना होगा।

उन्होंने कहा कि प्राधिकरण में अधिकारी जिस तरह से काम करना चाहिए वैसे नहीं कर रहे हैं। लोगों को अचानक से लाखों रुपए का पानी का बिल भेजा जाता है। इतना ही नहीं लीज रेंट यदि कोई व्यक्ति जमा नहीं करता तो उसे प्राधिकरण की ओर से नोटिस नहीं भेजा जाता। उस व्यक्ति को जब पता चलता है तब लीज रेंट पर लाखों रुपए चक्रवर्ती ब्याज लग चुका होता है।

उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि समय-समय पर पानी के बिल लोगों तक पहुंचने चाहिए ताकि प्राधिकरण के पास भी कमाई का जरिया रहे। वहीं, शहर में बने 83 शौचालय में घोटाला उजागर करना नए वर्ष के लिए उनका टारगेट होगा।

फोनरवा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुरेश तिवारी ने कहा कि यह सभी शौचालय केवल विज्ञापन के लिए बनाए गए हैं। यदि कोई व्यक्ति इस्तेमाल भी करना चाहे तो वह 1 मिनट के लिए भी गाड़ी खड़ी नहीं कर सकता क्योंकि सभी शौचालय चौराहों पर बने हैं जबकि इन्हें ऐसे स्थान पर बनाना चाहिए था जहां पर लोग रुक कर शॉच क्रिया कर सकें।

इस पूरे टेंडर में काफी बड़ा घोटाला है इसे उजागर करने के लिए फोनरवा लड़ाई लड़ेगी और इतना ही नहीं स्वच्छता के नाम पर हुए इस घोटाले को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक भी पहुंचाया जाएगा।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें