जामिया छात्रों का मार्च, मंडी हाउस के पास धारा-144, संसद मार्ग बंद

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ दिल्ली में मंगलवार को फिर प्रदर्शन की तैयारी है. जामिया कॉर्डिनेशन कमेटी के छात्र गृहमंत्री अमित शाह के आवास तक मार्च निकालेंगे। दिल्ली के मंडी हाउस से मार्च शुरू होगा। इसके अलावा 24 दिसंबर को राष्ट्रीय विरोध दिवस मनाने की अपील की गई है। सीएए के खिलाफ देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन का आयोजन हो रहा है। वहीं विरोध प्रदर्शन की स्थिति को देखते हुए दिल्ली के मंडी हाउस इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है जबकि संसद मार्ग को बंद कर दिया गया है। दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में कार्यरत सैकड़ों डॉक्टर प्रदर्शनकारी छात्रों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए सोमवार को जामिया मिलिया इस्लामिया पहुंचे थे। नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे छात्रों के जुलूस में शामिल हुए. जुलूस में डॉक्टरों के साथ फिजियोथेरेपी में स्नातक का कोर्स कर रहे छात्र भी शामिल हुए।
सोमवार दोपहर करीब तीन बजे हमदर्द विश्वविद्यालय में फिजियोथेरेपी के छात्र और कई अस्पतालों के डॉक्टर जामिया पहुंचे। यहां इन्होंने जामिया विश्वविद्यालय के मेन गेट से लेकर गेट नंबर 7 तक जुलूस निकाला. इस दौरान डॉक्टरों और छात्र-छात्राओं ने ‘सीएए रोलबैकÓ के नारे लगाए।
जुलूस निकालने के बाद ये प्रदर्शनकारी गेट नंबर 7 के बाहर जामिया विश्वविद्यालय के प्रदर्शनकारी छात्रों के समर्थन में धरने पर बैठ गए। ये हाथों में सीएए और एनआरसी विरोधी नारे लिखी तख्तियां थामे हुए थे। चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े इन प्रदर्शनकारियों ने छात्रों के साथ मिलकर नारेबाजी की।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें