चोर होने के शक में नाबालिग को निर्वस्त्र कर पीटा, मौत

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

नई दिल्ली। देश की राष्ट्रीय राजधानी के नॉर्थ वेस्ट जिले के मुकंदपुर इलाके में एक 16 वर्षीय किशोर को कुछ लोगों ने इतनी बेरहमी से पीटा की उसकी जान चली गई। किसोर पर शक था कि वह एक घर में चोरी के इरादे से दाखिल हुआ था। जिसके बाद कुछ लोगों ने नाबालिग को कमरे में बांधकर निर्वस्त कर मारा-पीटा।

सुबह अचेत अवस्था में पड़े युवक को लोगों ने अस्पताल में पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। भलस्वा डेयरी थाना पुलिस ने मामले में गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर नंद किशोर, राजकिशोर और त्रिवेणी को अरेस्ट किया है। बांकी आरोपियों की तलाश जारी है।

मूलरूप से बिहार का रहने वाला नाबालिग मुकंदपुर डी ब्लॉक में पंद्रह दिन पहले चाचा के घर आया था। मंगलवार सुबह 7 बजे नाबालिग घर से डेढ़ सौ मीटर दूर पड़ा मिला। उसे देख लोगों ने परिजनों को जानकारी दी। अचेत हालत में उसे बाबू जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। नाबालिग के शरीर पर अंडर वेयर के अलावा कोई कपड़ा नहीं था।

पीडि़त परिवार ने जब अपने स्तर पर छानबीन की तो पता चला कि एक परिवार के सदस्यों ने मिल उसकी हत्या की थी। उन लोगों ने देर रात इसे पकड़ कर कमरे में कई घंटे तक बंधक बनाकर मारा पीटा। पुलिस ने जांच के दौरान नाबालिग का मोबाइल पड़ोसी की छत से बरामद किया। 3 आरोपियों को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है।

पुलिस आरोपियों से जानने की कोशिश कर रही है कि आखिर देर रात ऐसा क्या हुआ था जिससे नाबालिग को इतनी बुरी तरह मारापीटा गया। फिलहाल पुलिस इस वारदात में शामिल संत लाल, सोहनलाल व देशराज की तलाश में संभावित जगहों पर दबिश डाल रही है। सभी आरोपी भाई हैं।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें