गाजियाबाद में लगेंगे आठ बड़े उद्योग, 885 करोड़ रुपये का होगा निवेश

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश में उद्योग को बढ़ावा देने के लिए गाजियाबाद में आठ बड़ी औद्योगिक इकाइयां लगाई जा रही हैं। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने औद्योगिक निवेश के तहत विभिन्न कार्यों का शिलान्यास किया है। इसके लिए 885 करोड़ रुपये का निवेश किया जा रहा है। इस योजना में ग्रुपहाउंङ्क्षसग प्रोजेक्ट को भी शामिल किया गया हैं।
सरकार की इस योजना से उद्यमियों में खासा उत्साह देखा जा रहा है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसे ग्राउंड ब्रेङ्क्षकग सेरेमनी के बजाए रिकॉर्ड ब्रेङ्क्षकग सेरेमनी कहा है। उद्यमियों का कहना है कि जिला उद्योगनगरी बनने में देर नहींहोगी है। जिले में धीरे-धीरे निवेश बढ़ेगा जिससे उद्योग लगेंगे।
इंडस्ट्रियल प्रॉजेक्ट्स की ग्राउंड ब्रेङ्क्षकग सेरेमनी में गए मैसर्स निलाया इंफ्राटेक प्रा लि के नितिन त्यागी ने रविवार को लखनऊ में बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1600 फ्लैट बनाने के लिए 350 करोड़ रुपये का निवेश होगा, इस पर काम भी शुरू हो चुका है।
उन्होंने कहाकि दो चरणों में चलने वाले इस प्रोजेक्ट में 1600 फ्लैट बनेंगे और करीब 600 लोगों को रोजगार मिलेगा। 300 करोड़ रुपये का निवेश करने वाली एमसीसी बिल्डर्स प्रा लि के विपुल गिरी ने बताया कि उनके प्रोजेक्ट से 500 से अधिक लोगों को नौकरी मिलेगी। 60 करोड़ रुपये निवेश करने वाली पारस डेवलपर्स कंसोर्सियम के पारस जैन ने कहा कि निवेश का माहौल धीरे-धीरे बन रहा है। जल्द ही इनवेस्टरों की संख्या बढ़ेगी। आक्सिट्रिच कंस्ट्रक्शन प्रा. लि. के विकास दुआ ने बताया कि वह 80 करोड़ रुपये निवेश कर रहे हैं। एसआरएम इंफ्राटेक सॉल्यूशन पीएम आवास योजना में 90 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। ङ्क्षरग्स एंड पिस्टंस बनाने वाली श्रीराम पिस्टंस ने भी 100 करोड़ का एमओयू साइन किया है।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें