गर्मी और ऊपर से धूल ने बढ़ाई मुसीबतें

सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

नोएडा। पिछले तीन दिनों से वातावरण एक गैस चैंबर की तरह हो गया है। गर्मी और ऊपर से धूल ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। ऐसे मौसम में अस्थमा वाले मरीज मुश्किल में है। डाक्टर सांस से संबंधित बीमारी वाले मरीजों को घर से बाहर न निकलने की सलाह दे रहे है। सेक्टर-125 में बीते दिन पीएम 10 का स्तर 910 था जो गुरुवार को घटकर 868 हो गया। पीएम 2.5 का स्तर एक दिन पहले के मुकाबले 201 से कम होकर 155 तक पहुंच गया। वहीं, सेक्टर-62 में बुधवार को पीएम 10 का स्तर 994 था जो गुरुवार को 902 तक गिर गया। ग्रेटर नोएडा में 13 जून को पीएम 10 का स्तर 985 था जो दूसरे दिन 893 तक आ गया।
नोएडा और ग्रेटर नोएडा में वायु प्रदूषण का स्तर अतिगंभीर बना हुआ है। वायु प्रदूषण से तीन दिन और राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सहायक पर्वावरण अभियंता ने बताया कि पीएम 10 की मात्रा 500 से अधिक रहने पर टास्क फोर्स इससे निजात पाने के लिए काम करेगी। वहीं प्रदूषण फैलाने वाले उद्योग बंद कराए है तथा निर्माणाधीन साईटों का काम रूकवाया गया है।

फायर बिग्रेड ने किया छिड़काव

दमकल विभाग को इस अतिसंवेदनशील मौसम में पानी का छिड़काव करने के निर्देश दिए गए है। एफएसओ प्रथम कुलदीप कुमार सिंह ने बताया कि सेक्टर-18 व आसपास के इलाकों में पानी की बौछारों से मिट्टी के कणों को नीचे बिठाने का काम किया गया है। इसके अलावा कई अन्य सेक्टरों में पेड़ पौधों पर जमी धूल धोई गई है।


सोशल मीडिया पर यहां से शेयर करें

संबंधित ख़बरें

Leave a Comment